जल निगम विभाग के दफ्तर पहुंची डीएम, दोनों जगह मिली कमियां, डीएम ने सीधे की कार्रवाई

डीएम शकुंतला गौतम ने जिले असैदा पुर स्थित मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त जिला अस्पताल और जल निगम कार्यालय का औचक निरीक्षण किया।

अमेठी. डीएम शकुंतला गौतम ने जिले असैदा पुर स्थित मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त जिला अस्पताल और जल निगम कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। डीएम के निरीक्षण में मौके पर 7 डॉक्टर के अलावा आधा दर्जन कर्मचारी नदारद मिले। डीएम ने सभी अनुपस्थित कर्मचारियों का एक दिन का वेतन काटने का आदेश सीएमओ को दिया।

यह भी पढ़ें - अब 9 महीने में पूरा होगी टीबी का इलाज, डाक्टरों ने ढूढ़ निकाली नई दवा, हुआ बड़ा चमकत्कार

साथ ही उन्होंने मामले में अस्पताल प्रभारी डॉक्टर आरके सक्सेना को नोटिस जारी करने को कहा। इसके बाद डीएम नव निर्माणधीन सीटी स्कैन कक्ष पहुंचीं, यहां उन्होंने इसे समय से पूरा काम करने का आदेश दिया। उसके बाद वार्ड में भर्ती मरिजों से हाल चाल जाना। वहीं डीएम के अस्पताल पहुंचते ही डॉक्टर और कर्मचारियों में अफरा तफरी मच गई। इस दौरान ड्यूटी रजिस्टर में डॉक्टरों की अनुपस्थिति से डीएम काफी नाराज हुईं।

यह भी पढ़ें - जमीन जायजाद को अपने नाम कराने के लिए बेटों ने बाप को मार मार कर किया मरणासन्न

डीएम के निरीक्षण में अस्पताल अधीक्षक समेत दर्जनों अस्पतालकर्मी नदारद मिले। इसे लेकर डीएम ने सीएमओ को फटकार लगाते हुए अस्पताल में जल्द सुधार निर्देश दिए। वहीं जल निगम में निरीक्षण के दौरान कमियां पाए जाने पर डीएम ने कार्रवाई की। और अस्पताल के निरीक्षण के बाद डीएम सीधे जल निगम विभाग के दफ्तर पहुंची। यहां उन्होंने दूषित पानी के टेस्टिंग लैब और कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान लापरवाह अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी। जांच के नमूने एकत्र न करने पर जल निगम विभाग में तैनात एई और सहायक लेखाकार को प्रतिकूल प्रविष्टि के आदेश दिए। साथ ही कार्यों में लापरवाही को लेकर लैब टेक्नीशियन को चेतावनी दी। वहीं मौके से गायब मिले पम्प ऑपरेटर का वेतन रोकने का भी आदेश दिया।

यह भी पढ़ें - सारे शिक्षामित्रों की होगी वापसी, योगी सरकार ने लिया बहुत बड़ा फैसला, ऐलान के बाद तैयारी शुरू

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned