पंचायत भवन में परिवार संग रह रही महिला, नही मिला पीएम आवास स्कीम का लाभ

अमेठी में एक महिला पिछले कुछ सालों से छत नही होने की वजह से पंचायत भवन में परिवार के संग रहने को मजबूर है।

By: Karishma Lalwani

Published: 21 Feb 2021, 05:13 PM IST

अमेठी. अमेठी में एक महिला पिछले कुछ सालों से छत नही होने की वजह से पंचायत भवन में परिवार के संग रहने को मजबूर है। पूरा मामला अमेठी संसदीय क्षेत्र के मुसाफिरखाना तहसील अंतर्गत चंदापुर anaगांव का है। यहां गांव में बने पंचायत घर में गीता नाम की महिला अपने परिवार के साथ रह रही। गीता ने बताया की वो यहां चार-पांच सालों से रह रही है। गीता का पति मजदूरी करता है और वो एक बच्चे के साथ पंचायत भवन में जैसे-तैसे गुजर बसर कर रही है। गीता ने ये भी बताया कि प्रधानमंत्री आवास के लिए प्रधान के पास गए लेकिन आवास नहीं मिला।

गांव की बुजुर्ग महिला चंद्रकला ने बताया कि करीब तीन साल से यहां रह रही है। प्रधान कालोनी वगैरह लिख दे तो मिल जाए। मजदूरी करके खा कमा रहे हैं। हम लोग चाहते हैं कब से बेचारी भटक रही है इसे कालोनी मिल जाए। वहीं प्रधान ने बताया की गीता के पति का जो पुश्तैनी मकान था उसे पट्टीदारों ने कब्जा कर लिया है। खेत में भी हिस्सा है उसका मुकदमा चल रहा है। उन्होंने कहा कि रहने के लिए आवास दिया था लेकिन उसमें न रह कर ये अपनी ननिहाल चले गईं और वहां सात-आठ साल तक रहीं। उसके बाद पट्टीदार उनके मकान पर काबिज हो गया। उन्होंने ये भी बताया की साल भर से पंचायत भवन में रह रहे हैं। वहीं इस मामले में जिलाधिकारी अरुण कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि कुछ मीडिया के लोगों के माध्यम से पता चला है जाँच कर महिला को आवास दिलवाया जाएगा।

ये भी पढ़ें: अमेठी में बनेगा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का आशियाना, 22 को होगी रजिस्ट्री, जानें कितनी है कीमत

ये भी पढ़ें: मंदिर में प्रेम विवाह करने के बाद पति ने पत्नी को भेजा मायके, साल भर बाद युवती ने इस बात की लिखाई तहरीर

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned