अमेठी की एक और ग्राम पंचायत में शत प्रतिशत शौचालय, हुआ वाह्यय शौच मुक्त

Nitin Srivastava

Publish: Jan, 14 2018 08:14:40 AM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India

अमेठी. स्वच्छ भारत मिशन में जिले को अव्वल स्थान में पहुचाने की कवायद में जुटे पंचायती राज विभाग ने अमेठी जनपद की एक और ग्राम पंचायत में शत प्रतिशत शौचालय निर्माण कराकर उसे वाह्यय शौच मुक्त करा दिया। गांव के वाह्यय शौच मुक्त होने के बाद पंचायती राज विभाग ने ग्राम प्रधान व ग्रामीणों के नेतृत्व में गौरव यात्रा निकालकर लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया।

 

हर घर में हुआ शौचालय निर्माण

दरअसल पंचायती राज विभाग का यह सराहनीय कदम अमेठी जनपद के शुकुलबाजार विकास खंड से जुड़ी ग्राम पंचायत खालिसबहादुर का है। आपको बताते चलें कि स्वच्छ भारत अभियान में प्रधानमंत्री के सपनों को साकार करने में जुटे पंचायती राज विभाग ने अमेठी के इस गांव के हर घर में शौचालय निर्माण कराने के बाद ग्राम प्रधान व ग्रामीणों के नेतृत्व में गौरव यात्रा निकाली। गौरव यात्रा में लोगों ने संकल्प लिया कि न वो खुले में शौच जाएंगे और न ही किसी को गांव में खुले में शौच करने देंगे।

 

निगरानी समिति का अहम योगदान

आपको बताते चलें कि अमेठी के इस राजस्व गांव को खुले में यानि वाह्यय शौच मुक्त करने के लिए पंचायती राज विभाग द्वारा गठित निगरानी समिति का भी अहम योगदान रहा है। निगरानी समिति ने न सिर्फ सुबह-शाम गांव में भ्रमण किया, बल्कि लोगों को घरो में बने इज्जत घर का इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित भी किया। पंचायती राज विभाग के कर्मचारियो की मेहनत सफल रही और गांव में शत प्रतिशत शौचालय निर्माण के बाद गौरव यात्रा निकाली गई।

 

निकाली गई गौरव यात्रा

ग्राम प्रधान गीता सिंह, ग्राम पंचायत अधिकारी संजय कुमार के साथ पंचायती राज विभाग के कर्मचारियो की मौजूदगी में गौरव यात्रा का नेतृत्व किया गया। वहीं गौरव यात्रा समापन के बाद पंचायती राज विभाज ने एक नुक्कङ सभा भी संबोधित की। सभा संबोधन के दौरान ग्राम प्रधान ने कहा कि हम सब की जिम्मेदारी है कि गांव को स्वच्छ और आर्दश बनाएं। हम सब को संकल्प लेना होगा कि आज के बाद हम सब खुले में शौच न जाकर घरों में बने इज्जत घर का प्रयोग करेंगे। जिससे समाज को खुले में शौच मुक्त करने के लिए सरकार के सपनो को भी साकार किया जा सके। वहीं एडीओ पंचायत त्रिलोकी नाथ यादव ने भी लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक हम दिल और दिमाग से स्व्छता के बारे में नहीं सोचेंगे तब तक समाज को स्वच्छ बनाने की कवायद पूरी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि हम सबको यह संकल्प लेना होगा कि खुले में शौच न कर अपने घरों में बने इज्जत घर का समुचित प्रयोग करेंगे।

 

जनपद को टॉप-10 में लाने का प्रयास

आपको बताते चलें कि जिले में इस ग्राम पंचायत के आंकड़े को शामिल करते हुए अब तक 120 राजस्व गावों में शत प्रतिशत शौचालय निर्माण कराकर उन्हें वाह्यय शौच मुक्त करा दिया गया है। वहीं वाटर एंड सैनिटेशन मंत्रालय द्वारा बनी स्वच्छता दर्पण की बेबसाइट पर अमेठी जनपद को 31वी रैंक प्राप्त हुई। इसके साथ ही जिला पंचायती राज विभाग अमेठी में स्वच्छ भारत मिशन को आगे बढ़ाने के लिए तनमयता से प्रयासरत है। डीपीआरओ बनवारी सिह ने बताया कि अब तक के वित्तीय वर्ष में अमेठी ने सराहनीय कार्य किया है। इस वित्तीय वर्ष में भी जनपद में 200 से ज्यादा ग्राम पंचायतों को वाह्यय शौच मुक्त कराया जाएगा। साथ ही जनपद को टॉप-10 की श्रेणी में लाने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा।

 

गौरव यात्रा के दौरान दद्दन सिंह, जिला समन्वयक नीलम सिंह, ग्राम पंचायत अधिकारी विवेक कुमार, स्वर्ण कुमार गुंजन गुप्ता, विजय कुमार यादव, समाजसेवी ममता पाण्डेय, अवधेश कुमार के साथ सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण भी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned