दिनदहाड़े बिजली विभाग के जेई का अपहरण, लूटे 82 हजार

दिनदहाड़े बिजली विभाग के जेई का अपहरण, लूटे 82 हजार

| Publish: Dec, 30 2018 09:41:52 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

पुलिस ने केस दर्ज कर शुरू की जांच।

 

अमेठी. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार सूबे में अपराध कम होने का लाख दावा करे, लेकिन हकीकत कुछ और ही दिख रही है। आए दिन अपराध की घटनाएं सुनने को मिल रही हैं। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि वे किसी भी घटना को अंजाम देने में जरा भी डर नहीं रहे हैं। लगता है पुलिस का अपराधियों में खौफ ही खत्म हो चुका है।
यूपी में अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहा। माफिया अतीक अहमद द्वारा लखनऊ के व्यापारी का अपहरण कराकर जेल में उसे मारने-पीटने का मामला पुलिस के लिए सिर दर्द बना ही था कि अब यहां दिनदहाड़े हथियार बन्द बदमाशों ने बिजली विभाग के अवर अभियंता का अपहरण कर लिया और उन्हें पहले जमकर मारा-पीटा फिर 82 हजार रुपये लूट लिए। फिलहाल अपहरणकर्ताओं के विरुद्ध जगदीशपुर थाना में केस दर्ज कराया गया है।

जानकारी के अनुसार जगदीशपुर औद्योगिक केंद्र समेत चार सब स्टेशन पर रामयज्ञ दूबे अवर अभियंता के पद पर तैनात हैं। रविवार सुबह वो आफिस से निकल कर अपने कमरे पर जा रहे थे कि इस दौरान अपहरणकर्ताओं ने उनके सिर पर मौजूद टोपी से उनका चेहरा ढक दिया और फिर बोलेरो गाड़ी पर बैठाकर निकल पड़े। आरोप है कि पहले अवर अभियंता की अपहरणकर्ताओं ने जमकर पिटाई की और फिर उनके पास रखे 82 हजार रुपए, दो मोबाइल छीन लिया। उसके बाद अपहरणकर्ता उन्हें मुसाफिरखाना कोतवाली के कादूनाला के पास गाड़ी से उतार दिया और फरार हो गए। जैसे तैसे उन्होंने सूचना पुलिस को दिया। इसके बाद उनका एक प्राइवेट हास्पिटल में इलाज शुरू हुआ। इस मामले में जगदीशपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है। पुलिस टीम जांच में जुट गई है। एएसपी बीसी दुबे ने बताया कि मुकदमा दर्ज हो गया है, जल्द ही आरोपी पुलिस गिरफ्त में होंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned