भाजपा के नगर पालिका के चेयरमैन के नाम से वायरल हुआ स्मृति ईरानी को लिखा लेटर, कहा ये विरोधियों की साजिश

भाजपा के नगर पालिका के चेयरमैन के नाम से वायरल हुआ स्मृति ईरानी को लिखा लेटर, कहा ये विरोधियों की साजिश

Mahendra Pratap Singh | Publish: Sep, 09 2018 12:45:53 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के नाम लिखा गया लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है

अमेठी. उत्तर प्रदेश में अमेठी के जायस नगर पालिका के चेयरमैन का केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के नाम लिखा गया लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल लेटर में उन्होंंने केंद्रीय मंत्री से यूपी में किसी विभाग में आयोग का अध्यक्ष बनवाने की डिमांड की है।

उत्तर प्रदेश विभाग का अध्यक्ष बनाए जाने की कही बात

गौरतलब हो कि आगामी 7 सितम्बर को केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी रायबरेली-अमेठी के एक दिवसीय दौरे पर ही थीं। उन्होंंने 6 दिनों के अंदर अमेठी का दूसरा दौरा किया था। अपने दूसरे दौरे पर सलोन विधानसभा में एक सम्मेलन को सम्बोधित करने के बाद अमेठी के जायस में बने राजीव गांधी पेट्रोलियम संस्थान के दीक्षांत समारोह में शामिल हुई। बताया जा रहा है कि यही पर जायस नगर पालिका के चेयरमैन महेश प्रताप सोनकर ने केंद्रीय मंत्री को इस आशय के साथ एक लेटर दिया कि उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार में किसी विभाग का अध्यक्ष बना दिया जाए। इत्तेफाक से वो लेटर किसी व्यक्ति के हाथ लग गया जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। अब इस पर तीखी प्रतिक्रियाएं हो रही हैं।

मुसलमान होने की वजह से किए जाते हैं नजरअंदाज

जायस सैदाना के सभासद पति सैयद सादिक मेंहदी का कहना है कि जिससे एक नगर पालिका नहीं संभल रही वो प्रदेश का विभाग क्या सम्भालेगा? उन्होंंने कहा के बीजेपी का ये वही चेयरमैन है जिसने आज तक इलाके में शौचालय निर्माण का भुगतान नहीं किया। उन्होंंने कहा कि भुगतान नहीं होने की वजह ये है के लाभार्थी मुस्लिम हैं और चेयरमैन केवल सोनकर समाज का ही भुगतान करेगें।

झूठा है वायरल लेटर

हालांकि जब इस लेटर के बारे में नगर पालिका अध्यक्ष महेश प्रताप सोनकर से बात की गई, तो उनका साफ कहना था कि ये लेटर मैने नही लिखा है और न ही मेरे कोई सिग्नेचर है। ये केवल मेरे विरोधियों द्वारा मुझे बदनाम करने की साजिश है। इसका सबसे बड़ा कारण है कि जायस नगर पालिका में पहली बार भारतीय जनता पार्टी का प्रत्यासी नगर

Ad Block is Banned