पंजाब में राहुल गांधी की ट्रैक्टर रैली का समापन, लगाए सनसनीखेज आरोप

  • मोदी ने छोटे व्यापारियों, किसानों, आढ़तियों, खेत मजदूरों की कीमत पर कॉरपोरेट घरानों की सेवा की
  • मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा- अगले चुनावों में इन उत्पीड़कों को खत्म कर दिया जाएगा

By: Bhanu Pratap

Published: 06 Oct 2020, 06:42 PM IST

पटियाला। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तीन दिवसीय `खेतो बचाओ यात्रा` का मंगलवार को हरियाणा की सीमा पर समापन हुआ। किसानों की भारी भीड़ जुटी। इसमें दोनों नेताओं ने किसानों के हित में एक इंच भी पीछे नहीं हटने का संकल्प लिया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर सनसनीखेज आरोप लगाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कॉरपोरेट घरानों के हितों की सेवा की

पंजाब में पटियाला जिले के सन्नौर के पास गाँव फ्रांसवाला में एक सार्वजनिक रैली हुई। इस दौरान राहुल गांधी ने केंद्र में भाजपा की अगुवाई वाली सरकार पर हमला किया- पिछले छह वर्षों में सभी वर्गों के लोगों पर अत्याचारों पर अत्याचार हुए हैं। गरीब और गरीब हो गए हैं, अमीर और अमीर हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छोटे व्यापारियों, किसानों, आढ़तियों और खेत मजदूरों की कीमत पर कॉरपोरेट घरानों के हितों की सेवा की है।

यह लड़ाई पूरे देश के लिए

राहुल ने कहा, "किसान इन अन्यायपूर्ण और बर्बर कानूनों के आगे सिर झुकाने के बजाय मर जाएंगे। राहुल ने कहा कि मंडी और खरीद प्रणाली कृषक समुदाय के लिए सुरक्षा कवच था, जिसे कृषि कानून नष्ट कर देगा ।" ये कानून किसानों को अंबानी और अडानी के हाथों बंधुआ मजदूर बना देंगे। यह केवल पंजाब के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिए एक लड़ाई है। अगर ये कानून लागू हो जाता है, तो किसान मदद के लिए प्रशासन के दरवाजे पर दस्तक नहीं दे पाएंगे। उन्होंने पूछा- "क्या आपको ऐसी प्रणाली की ज़रूरत है जहाँ किसानों के भुखमरी से मरने के दौरान शॉपिंग मॉल का निर्माण किया जाए?"

अगले चुनाव में उत्पीड़कों को खत्म कर देंगे

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भाजपा सरकार को कोसते हुए कहा कि पूरे देश में किसान मोदी शासन के खिलाफ उठे हैं और चेतावनी दी है कि "अगले चुनावों में इन उत्पीड़कों को खत्म कर दिया जाएगा।" उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार, उन सभी किसानों और खेत मजदूरों को खत्म करने पर आमादा है, जिन्होंने कोविड संकट के दौरान देश को खाद्यान्न दिया था। मोदी सरकार का दावा है कि किसान खुश हैं तो अगर किसान इन कानूनों से वास्तव में खुश हैं, तो वे सड़कों पर विरोध प्रदर्शन क्यों कर रहे हैं? ”, कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि जब तक इन कानूनों को वापस नहीं लिया जाता, तब तक उनके खिलाफ पंजाब की लड़ाई जारी रहेगी। यह 'रोटी' के लिए लड़ाई है क्योंकि देश की 65 प्रतिशत आबादी कृषि पर पनपती है।

राहुल गांधी देश का भविष्य

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने संकट की घड़ी में किसानों के समर्थन में पंजाब आने के लिए राहुल गांधी को धन्यवाद दिया। मोदी की अंग्रेजों से बराबरी करते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह ब्रिटिश साम्राज्य के अत्याचार गांधी परिवार की भावना को धूमिल करने में असफल रहे, उसी तरह मोदी भी नहीं कर पाएंगे। राहुल गांधी को देश का भविष्य बताते हुए रावत ने कहा कि केवल वह मोदी सरकार को जवाब दे सकते हैं।

किसानों पर विनाशकारी प्रभाव पड़ेगा

पीपीसीसी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि जिस दिन किसानों की नियति कॉर्पोरेट दिग्गजों, पीडीएस प्रणाली और मंडी प्रणाली के हाथों में चली जाएगी, किसान समुदाय और गरीबों पर विनाशकारी प्रभाव पड़ेगा। किसानों के साथ खड़े होने का वादा करते हुए पटियाला की सांसद परनीत कौर ने कहा कि मुख्यमंत्री ने किसानों के अधिकारों की लड़ाई में कोई कसर नहीं छोड़ी है। राहुल गांधी हमेशा समाज के सभी वर्गों के हित के लिए खड़े हुए हैं।

ये रहे उपस्थित

इस अवसर पर उपस्थित अन्य लोगों में प्रमुख रूप से कैबिनेट मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा और सुखबिंदर सिंह सरकारिया, पंजाब मंडी बोर्ड के अध्यक्ष लाल सिंह, सांसद मनीष तिवारी, जसबीर सिंह डिम्पा, चौधरी संतोक सिंह, गुरजीत सिंह औजला, डॉ. अमर सिंह, मोहम्मद सादिक, प्रताप सिंह बाजवा, सनुर हलका इंचार्ज हरिंदर सिंह हैरी, विधायक कुलजीत सिंग नागरा, राणा गुरजीत सिंह, मदन लाल जलालपुर, हरदयाल सिंह कंबोज, राजिंदर सिंह, डॉ. राज कुमार वेरका, गुरकीरत सिंह कोटली, नवतेज सिंह चीमा, गुरप्रीत सिंह जीपी, लखवीर सिंह लाखा और सुखपाल सिंह भुल्लर, पीपीसीसी सचिव कैप्टन संदीप संधू, पंजाब यूथ कांग्रेस के महासचिव मोहित मोहिंद्रा और पंजाब स्टेट सोशल वेलफेयर बोर्ड की चेयरपर्सन गुरशरण कौर रंधावा की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned