दरबार साहिब में नतमस्तक हुए राजनाथ सिंह

भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज अमृतसर दौरे के दौरान दरबार साहिब में माथा टेका।

By: शंकर शर्मा

Published: 13 Mar 2018, 11:27 PM IST

चंडीगढ़। भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज अमृतसर दौरे के दौरान दरबार साहिब में माथा टेका। दरबार साहिब पहुंचने पर शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष भाई गोबिंद सिंह लौंगोवाल ने उनका स्वागत किया। राजनाथ सिंह के साथ केंद्रीय मंत्री विजय सांपला, सांसद प्रो.प्रेम सिंह चंदूमाजरा समेत कई प्रतिनिधि मौजूद थे।


दरबार साहिब में माथा टेकने के बाद राजनाथ सिंह ने विजीटर बुक में लिखा कि मैं आज बहुत खुश हूं। क्योंकि इस पावन स्थान पर आकर मुझे गुरू का आशीर्वाद मिला है। इस अवसर पर एसजीपीसी की तरफ से राजनाथ व अन्य प्रतिनिधियों सम्मानित भी किया गया।

 

 

देशभर में मनाए जाएंगे जलियांवाला बाग के शताब्दी समारोह
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ऐलान किया है कि केंद्र सरकार ने जलियांवाला बाग के शताब्दी समारोह अगले साल पूरे देश में मनाने का फैसला किया है। जल्द ही जलियांवाला बाग के सौंदर्यकर्ण की योजना को लागू किया जाएगा। राजनाथ सिंह ने मंगलवार को अमृतसर स्थिति जलियांवाला बाग में शहीद उधम सिंह की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद उपस्थित जनमूसह को संबोधित कर रहे थे।


जलियांवाला बाग में शहीद उधम सिंह की प्रतिमा स्थापित किए जाने का विवाद लंबे समय से चल रहा है। जलियांवाला बाग के खूनी कांड के दोषी व पंजाब के उस समय के लेफ्टिनेंट गवर्नर माइकल ओडवायर को आज ही के दिन उधम सिंह ने मौत के घाट उतारा था। जिसके बाद वर्ष 1940 में उन्हें फांसी की सजा सुनाई गई थी। करीब आठ दशक से उधम सिंह की प्रतिमा को जलियांवाला बाग में स्थापित किए जाने को लेकर विवाद चल रहा था।


इंटरनेशनल सर्व कंबोज समाज के अध्यक्ष शिंदरपाल सिंह बौबी कंबोज व हरमीत कंबोज ने उधम सिंह की प्रतिमा जलियांवाला बाग में स्थापित करने की लंबी लड़ाई लड़ी थी। दोनों प्रतिनिधियों का आभार व्यक्त करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि शहीद किसी एक कौम के प्रतिनिधि होते बल्कि वह पूरे देश का गौरव होते हैं।


राजनाथ ने देशभर में एक तबगे द्वारा शहीदों की प्रतिमाओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि युवाओं को शहीदों के दर्शाए मार्ग पर चलकर अपने भीतर देश प्रेम की भावना को जिंदा रखना चाहिए। क्योंकि युवाओं में किसी कौम अथवा देश को नया मोड़ देने की ताकत होती है। देश की आजादी में पंजाबियों की भूमिका को अहम करार देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि जलियांवाला बाग को आज देश ही नहीं विदेशों में भी याद किया जाता है।


जिसके चलते केंद्र सरकार द्वारा अगले साल जलियांवाला बाग के शताब्दी समारोह देशभर में आयोजित किए जाएंगे। केंद्र सरकार द्वारा इस बारे में विशेष कार्यक्रम घोषित किए जाएंगे। इससे पहले भाजपा अध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्री विजय सांपला ने राजनाथ सिंह का यहां पहुंचने पर स्वागत किया।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned