संभल सिपाही हत्याकांड: पुलिस बाकि बचे दो बदमाशों की पकड़ के लिए कर रही ड्रोन का इस्तेमाल

संभल सिपाही हत्याकांड: पुलिस बाकि बचे दो बदमाशों की पकड़ के लिए कर रही  ड्रोन का इस्तेमाल

Jai Prakash | Updated: 21 Jul 2019, 06:12:46 PM (IST) Amroha, Amroha, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • एक आरोपी कमल को मुठभेड़ में मार गिराया था
  • बदमाशों की तलाश जंगल में की जा रही है, जिसके लिए पुलिस ड्रोन कैमरे का सहारा लिया है
  • मौजूद सिपाही हरेन्द्र और बृजपाल की हत्या कर फरार हो गए थे

अमरोहा: शनिवार देर रात जनपद पुलिस ने थाना आदमपुर क्षेत्र के शेरगढ़ गांव के जंगलों में संभल से सिपाहियों की हत्या कर फरार चल रहे तीन आरोपियों में से एक आरोपी कमल को मुठभेड़ में मार गिराया था। लेकिन दो अभी भी फरार हैं। रात होने पर पुलिस ने जंगल को चारों तरफ से घेरकर काम्बिंग नहीं की। सुबह से ही बदमाशों की तलाश जंगल में की जा रही है, जिसके लिए पुलिस ड्रोन कैमरे का सहारा लिया है। जिससे पुलिस सुरक्षित रहते हुए बदमाशों को पकड़ सकेगी। खुद पूरे ऑपरेशन की निगरानी करने के लिए आई जी रमित शर्मा डेरा डाले हुए हैं और लगातार पुलिस अधिकारीयों को दिशा निर्देश दे रहे हैं।

Online Ad देकर लोगों को फंसाता था ये गैंग, फिर इस तरह कर लेता था ठगी

ये की थी घटना
बुधवार 17 जुलाई को संभल के बनियाठेर थाना क्षेत्र में चंदौसी कोर्ट से लौटते वक्त तीन बंदी कमल, शकील और धर्मपाल बंदी वाहन में मौजूद सिपाही हरेन्द्र और बृजपाल की हत्या कर फरार हो गए थे। इस दुस्साहसिक वारदात ने पुलिस को खुली चुनौती दी थी। इस हत्याकांड की गूंज लखनऊ तक पहुंची थी। इन्हें जिन्दा या मुर्दा पकड़ने के लिए पुलिस मुख्यालय से ढाई-ढाई लाख का इनाम घोषित किया गया था। तीनों को पकड़ने के लिए संभल पुलिस के साथ-साथ मुरादाबाद,अमरोहा और रामपुर पुलिस की भी कई टीमें लगीं हुई थीं। यही नहीं एसटीएफ टीम के साथ आई जी अमिताभ यश भी डेरा डाले हुए थे।

 

 

जल्द बाकि दोनों मिलने की उम्मीद
शनिवार रात को अमरोहा पुलिस को सूचना मिली कि आदमपुर थाना क्षेत्र जोकि संभल की सीमा से सटा हुआ है। वहां तीन बदमाश एक आश्रम में छिपे हैं। जिस पर पुलिस ने घेराबंदी की तो आरोपी जंगल की ओर भागे और पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में कमल नामक बदमाश की मौत हो गयी थी।जबकि एक सिपाही प्रवीन वो भी घायल हुआ था। आई जी रमित शर्मा ने बताया कि रात अधिक होने से रात में काम्बिंग रोकनी पड़ी। आज सुबह से जगंलों में बाकि बचे दोनों आरोपियों को ढूंढा जा रहा है। जल्द ही सफलता मिलने की उम्मीद है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned