scriptAfter two months, water reached the houses again in this village, the | इस गांव में दो माह बाद फिर से घरों में पहुंचा पानी, 1600 की आबादी ने ली राहत की सांस | Patrika News

इस गांव में दो माह बाद फिर से घरों में पहुंचा पानी, 1600 की आबादी ने ली राहत की सांस

अधिकारियों ने गांव पहुंचकर कराया प्रारंभ, पत्रिका ने प्रशासन का कराया था ध्यान आषर्कण

अनूपपुर

Published: May 11, 2022 12:29:06 pm

अनूपपुर। कोतमा जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत बसखला में पिछले 2 माह से बंद जलापूर्ति ९ मई को एक बार फिर से चालू हुआ। जिससे पंचायत के वार्ड क्रमांक १४ में रहने वाले १६०० आबादी को पानी मिलना आरंभ हुआ। ग्रामीणों ने पाइप लाइन के माध्यम से घरों तक पहुंचे पानी को देखकर खुशियां मनाई, और कहा गर्मी की इस तपिश में लोगों को दूर जाकर पानी नहीं भरकर लाना होगा। ग्रामीणों ने बताया कि मात्र बिजली के ट्रांसफार्मर की खराबी से गांव की इतनी बड़ी आबादी पानी के लिए तरस रहे थे। पेयजल की समस्या पर पत्रिका ने प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था। जिस पर संज्ञान लेते हुए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचकर नल जल योजना में आई खराबी को दूर करते हुए पेयजल सप्लाई प्रारंभ कराया है। बताया जाता है कि बसखला में 14 वार्ड में निवासरत 1600 की आबादी पेयजल के लिए परेशान थे। जिसे संज्ञान में लेते हुए 9 मई को पीएचई विभाग एसडीओ कोतमा एसपी द्विवेदी ग्राम पंचायत पहुंचे। जहां विद्युत विभाग के सहयोग से बिगड़े ट्रांसफार्मर को बदलवा कर नया ट्रांसफार्मर लगवाया। जिसके बाद पेयजल व्यवस्था बहाल कर दी गई।
बॉक्स: मोटर पंप हटाने दी गई समझाइश
जलापूर्ति बहाल करने के बाद एसडीओ ने गांव का भ्रमण किया। इस दौरान पानी बर्बाद न हो और जरूरत के अनुसार पानी का उपयोग किया जा सके ग्रामीणों को मोटर पंप नहीं लगाने की समझाई दी। एसडीओ ने बताया कि मोटर पंप लगाकर पानी की निकासी ना करें इससे अधिक पानी का खींचाव व बहाव होता है। सबको पेयजल उपलब्ध हो किसके लिए मोटर पंप हटाने के निर्देश और समझाइश दी गई।
वर्सन:
ट्रांसफार्मर में खराबी थी, जिसे बदलवाकर जलापूर्ति बहाल कर दिया गया है। साथ में ग्रामीणों को समझाइश भी दी गई है कि वे मोटर पंप का इस्तेमाल न करें, इससे पानी की बर्बाद होती है।
एसपी द्विवेदी, एसडीओ पीएचई विभाग कोतमा।
----------------------------------------------------
After two months, water reached the houses again in this village, the
इस गांव में दो माह बाद फिर से घरों में पहुंचा पानी, 1600 की आबादी ने ली राहत की सांस

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'SSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़पसचिन दिल्ली से जयपुर की फ्लाइट में बैठे और पहुंच गए अहमदाबाद, ऐसे हुआ गड़बड़झालाअखिलेश ने तय किया राज्यसभा के उम्मीदवारों का नाम, जल्द करेंगे नामांकनHoney Trap: पाकिस्तानी सेना का लव जेहाद, भारतीय जवानों के लिए बना फांसहार्दिक पटेल पर कांग्रेस पर करारा वार, पूछा- कांग्रेस के नेताओं की भगवान श्रीराम से क्या दुश्मनी, हिंदुओं से इतनी नफरत क्यों?कहां रहता है मोस्ट वांटेड दाऊद इब्राहिम? भांजे अलीशाह ने ED के सामने किया खुलासा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.