scriptAmazing game: Paddy sent from society for warehouse storage fell short | गजब खेल: सोसायटी से वेयरहाउस भंडारण के लिए भेजी गई धान पड़ गई कम, 1036 क्विंटल मात्रा की कमी | Patrika News

गजब खेल: सोसायटी से वेयरहाउस भंडारण के लिए भेजी गई धान पड़ गई कम, 1036 क्विंटल मात्रा की कमी

वेयरहाउस की मनमानी में सोसायटियों को 20 लाख से अधिक का नुकसान, कम स्टॉक का शो कर गड़बड़ी

अनूपपुर

Published: June 19, 2022 12:39:42 pm

अनूपपुर। जिले में रबी और खरीफ का उपार्जन और भंडारण अवैध कमाई का जरिया बन गया है। यहां किसानों की मेहनत को औने पौने रूप में मानक और अमानक बनाकर सोसायटी सर्वेयर नजराने के बाद खरीदी करती है, वहीं सोसायटी से वेयरहाउस में होने वाले भंडारण के दौरान कम स्टॉक को दर्शाकर वेयरहाउस कर्मी सोसायटियों को लाखों का चूना लगा रही है। लेकिन इनमेंं हर कीमत पर किसान घुन बनता है, जहां गेहूं के साथ ***** जाता है। विभागों के जिम्मेदार ऐसे अवैध कारगुजारियों में शामिल कर्मचारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करती। जिसका नतीजा इस वर्ष भी सोसायटी पर किसानों से हुई खरीदी और वेयरहाउस गोदामों में भंडारण के बीच जिले में कुल खरीदी हुई धान में १०३६. ८६ क्विंटल धान की मात्रा कम पड़ गई। इससे सोसायटियों को लगभग २० लाख ११ हजार ५०८ रुपए का नुकसान होना बताया गया है। हालांकि यहां सोसायटी को बेचे गए धान के बदले सरकार किसानों के खाते में सीधे ट्रांर्सफर करती है, जिसके कारण किसानों को यहां नुकसान नहीं हुआ। लेकिन भंडारण का कमीशन लेने वाली वेयरहाउस सोसायटियों की वाजिव धान की मात्रा को भी कम बताकर उन्हें लाखों की चपत लगा रही है। यहीं कारण है कि पयारी वेयरहाउस से कुछ दिन पूर्व एक वीडियो वायरल हुई जिसमें वेयरहाउस ठेकेदार पर एक ट्रक धान बाजार में बेचे जाने का आरोप लगाया गया। इसमें यह धान पूर्व वर्ष हुए उपार्जन एवं भंडारण के दौरान वेयरहाउस में कम मात्रा दर्शाकर हजारो क्विंटल धान अलग रखने की बात कही गई। इस मामले में नागरिक आपूर्ति विभाग प्रबंधक एके रावत ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
किसानों से अधिक मात्रा में खरीदी के बाद भंडारण में घट गए हजारो क्विंट धान
उपार्जन के दौरान किसानों से एक बोरी में ४० किलो धान पैकिंग के निर्देश हैं। लेकिन यहां सोसायटी प्रबंधक भी किसानों को सूखन के नाम पर १-२ किलो अधिक धान क्रय करती है। यह स्थिति प्रति बोरे में होती है। यहीं नहीं ४० प्रतिशत किसानों को सर्वेयर अमानक और मानक के उलझन में रखते हुए नजराने लेने के बाद स्वीकृति प्रदान करती है। लेकिन इसके बाद भी वेयरहाउस पहुंचने वाली धान की मात्रा में बोरियां कम पड़ जाती है। माना जाता है कि यहां वेयरहाउस में पहुंचे धान को कम मात्रा में बताकर नान से स्वीकृति ले ली जाती है। धान तो भंडारित हो जाता है, लेकिन सोसायटी को इसका नुकसान उठाना पड़ता है।
इन सोसायटी से कम पहुंची धान, छिल्पा और लीलाटोला के सबसे अधिक
नागरिक आपूर्ति विभाग के आंकड़ों को देखा जाए तो वर्ष २०२१-२२ में कुल ३० उपार्जन केन्द्र बनाए गए, जहां पंजीकृत किसानों से ७ लाख २५ हजार ७२० क्विंटल धान का उपार्जन किया गया। लेकिन वेयरहाउस में भंडारण के दौरान १०३६.८६ क्विंटल धान कम पड़ गए। इसमें लीलाटोला सोसायटी से ३३२.२० क्विंटल धान, कपिलधारा किसान प्रोड्यूसर कंपनी कोतमा से ८८.८८ क्विंटल, छिल्पा सोसायटी से ३२५ क्विंटल, पटनाकला सोसायटी की १७२.६५ क्विंटल धान कम हो गए। इसके अलावा १४ केन्द्रों से कम मात्रा के कम स्टॉक शो किए गए हैं। जबकि १२ केन्द्र शून्य रहें।
विभाग की मौन स्वीकृति, आज तक नहीं हुई जांच पड़ताल
सोसायटी से वेयरहाउस पहुंचने वाले धान के भंडारण में शॉटेज को लेकर विभाग की हमेशा मौन स्वीकृति रही है। विभाग ने इस मामले में कभी न तो वेयरहाउस की जांच पड़ताल की और ना ही सोसायटी से खरीदी हुई मात्रा के बाद कम पड़े धान के आंकड़ों की जानकारी ली। जिसके कारण अनाजों में गड़बडिय़ों की आंख मिचौली विभाग, वेयरहाउस और सोसायटी के बीच चलती रही है।
------------------------------------------------------------
Amazing game: Paddy sent from society for warehouse storage fell short
गजब खेल: सोसायटी से वेयरहाउस भंडारण के लिए भेजी गई धान पड़ गई कम, 1036 क्विंटल मात्रा की कमी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

SpiceJet की एक और फ्लाइट में खराबी, मुंबई में प्लेन की इमरजेंसी लैंडिंग, 17 दिन में तकनीकी खराबी की 7वीं घटनायूपी में प्रशासनिक फेरबदल, 4 IAS और 3 PCS किए गए इधर से उधरउत्तर प्रदेश संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड परीक्षा-2022: जाने परीक्षा केंद्र के लिए बनाए गए नियमGujarat: एमई, एमफार्म में प्रवेश के लिए आज से शुरू होगा रजिस्ट्रेशनएंकर रोहित रंजन को रायपुर पुलिस नहीं कर पाई गिरफ्तार, अपने ही दो कर्मचारी के खिलाफ जी न्यूज़ ने दर्ज कराई FIRMausam Vibhag alert : मौसम विभाग का यूपी के कई जिलों में 9-12 जुलाई तक भारी बारिश का अलर्टबाप बोला, मेरे बेटे ने दोस्त के साथ मिलकर कर दी अपनी मां की हत्याGanpati Special Train: सेंट्रल रेलवे ने किया बड़ा एलान, मुंबई से चलेगी 74 गणपति महोत्सव स्पेशल ट्रेन, देखें पूरा शेड्यूल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.