वेयरहाउस पहुंचे अनूपपुर एसडीएम, 8 स्टैप भंडारित गेहूं की दोबारा होगी जांच

गोदाम प्रबंधक ने बिना जांच कराए गेहूं भंडारित कर दिया फ्यूमीगेशन, स्टाफों का दर्ज किया बयान

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 24 Jun 2020, 06:01 AM IST

अनूपपुर। सजहा वेयरहाउस में सालभर पूर्व भंडारित कर रखे गए 20 हजार क्विंटल गेहूं में कीड़ा लगकर खराब होने तथा गोदाम प्रबंधक द्वारा शासकीय राशन की दुकानों में खपाने के मामले में २२ जून की शाम अनूपपुर एसडीएम कमलेश पुरी और खाद्य आपूर्ति विभाग के कनिष्ठ निरीक्षक प्रदीप द्विवेदी ने गोदाम की जांच की। जहां निरीक्षण के दौरान गोदाम के ब्लॉक बी में 8 स्टैक लगभग 12 हजार 750 क्विंटल कीड़ायुक्त गेहूं को प्रबंधक द्वारा फ्यूमीगेशन ट्रीटमेंट कर भंडारित पाया। हालांकि इस दौरान उसकी जांच करना प्रशासनिक अधिकारियों ने उचित नहीं समझा, जिसके कारण वहां भंडारित की गई गेहूं का दोबारा जांच सप्ताह भर बाद किया जाएगा। इसके अलावा ब्लॉक डी में 3 अधूरे गेहूं के स्टैक की जांच की गई। जिसमें गेहूं में घुन लगे होने के कारण खराब पाया गया। इसका सैम्पल लेकर मौके पर पंचनामा बनाया गया है। जिसके बाद वेयर हाउस अनूपपुर के शाखा प्रबंधक को अगले दिन 23 जून को प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया गया। इस दौरान एसडीएम ने गोदाम के अंदर रखे गेहूं की मात्रा की जांच की।
वेयर हाउस अनूपपुर शाखा प्रबंधक प्रीति शर्मा ने गोदाम में भंडारित गेहूं की जानकारी देते हुए बताया कि गोदाम में 17500 क्विंटल पुराना तथा 45295 क्विंटल नया गेहूं भंडारित है। वहीं प्रबंधक ने गोदाम में रखे खाद्यान्न की जानकारी उपलब्ध नही करा सके। इतना ही नही विंध्या इरेक्टर सजहा के प्रबंधक से गोदाम के खाद्यान्न से संबंधित स्टॉक पंजी की जांच की गई, जांच में स्टॉक पंजी संधारित नहीं मिली।
बॉक्स: बयान में १६ हजार से अधिक गेहूं खराब
23 जून को बयान में वेयर हाउस प्रबंधक प्रीति शर्मा ने बताया कि सजहा वेयर हाउस में कुल 62 हजार 926 क्विंटल गेहूं भंडारित होना बताया। जिसमें 17555 क्विंटल पुराना गेहूं में 16 हजार 305 क्विंटल गेहूं कीड़ायुक्त होने पर 12750 क्विंटल गेहूं का ट्रीटमेंट होना बताया। और 3555 क्विंटल गेहूं का ट्रीटमेंट किया जाना शेष बताया है। वहीं फ्यूमीगेशन ट्रीटमेंट कर अंडर कवर किए गेहूं को 27 जून तक खोले जाने की बात कही। यानि २७ जून को एसडीएम द्वारा दोबारा फ्यूमीगेशन किए गेहूं की जांच की जाएगी।
वर्सन:
२० हजार क्विंटल गेहूं खराब नहीं हुआ है, लेकिन बयान में १६ हजार से अधिक के खराब होने की जानकारी मिली है। सप्ताहभर बाद फ्यूमीगेट किए गए स्टैप की जांच बाद सही जानकारी सामने आ पाएगी।
कमलेश पुरी, एसडीएम अनूपपुर।
---------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned