भगवान भरोसे स्वास्थ्य केन्द्र: अस्पताल में मरीजों के साथ मवेशी, प्रसूति वार्ड में पहुंच रहे श्वान

नवजातों की सुरक्षा से बेखबर अस्पताल प्रबंधक, असुरक्षित जच्चा और बच्चा व सामान्य मरीज

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 30 Aug 2020, 10:59 PM IST

राजेन्द्रग्राम। कोरोना संक्रमण से जूझ रहे मरीजों के साथ सामान्य बीमारियों व प्रसव पीडि़त माताओं के लिए राजेन्द्रग्राम मुख्यालय की सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र असुरक्षित बन गया है। जहां मरीजों के साथ अस्पताल परिसर के अंदर मवेशी और श्वानों ने अपना डेरा बना लिया है। यह स्थिति तो रात के समय और खतरनाक बन जाती है जब गाय या अन्य मवेशी मरीजों के वार्ड तक पहुंच जाते हैं और श्वान प्रसव वार्ड तक। ऐसे में परिजनों की थोड़ी से चूक में श्वान नवजातों या इलाजरत माताओं को नुकसान पहुंचा सकता है। बावजूद स्वास्थ्य केन्द्र इस खतरे से अंजान बने हुए हैं। उल्लेखनीय है कि कुछ वर्ष पूर्व इसी सामुदायिक स्वास्थ्य स्वास्थ्य केन्द्र राजेन्द्रग्राम से एक नवजात की चोरी का मामला सामने आया था, जिसमें एक महिला प्रसव वार्ड से एक नवजात को चुरा ले गए थी। जबकि कुछ आवारा श्वानों ने प्रसव वार्ड से एक नवजात को उठाकर उसे नोंच खाया था। लेकिन इन घटनाओं के बाद भी प्रबंधन नहंी चेता। हालांकि इस घटना के बाद स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में सीसीटीवी लगाए थे और सुरक्षाकर्मी तैनात की गई थी। बावजूद वर्तमान में स्वास्थ्य केन्द्र अब फिर से भगवान भरोसे नजर आने लगा है।
बॉक्स: रात के समय लापरवाह हुए सुरक्षाकर्मी और स्टाफ
तस्वीरों को देखा जाए तो यह डरवाना मंजर प्रतीत होता, जहां मवेशी इलाजरत मरीज पर हमला कर उसे घायल या मौत के नींद सुला सकता है। वहीं आवारा श्वान मरीजों के साथ प्रसव वार्ड के प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रवेश कर नवजातों व माताओं को नुकसान पहुंचा सकता है। लेकिन आश्चर्य यहां सुरक्षा में तैनात कर्मचारी के बाद मवेशी केन्द्र के अंदर आसानी से घुस रही है। वहीं ड्यूटी पर कार्यरत स्टाफ नर्स या चिकित्सक की भी लापरवाही मानी जा सकती है। बताया जाता है कि यहां मरीजों के लिए उपलब्ध सुविधाएं भी भगवान भरोसे है। भर्ती मरीजों को समय पर इलाज, भोजन की गुणवत्ता और असामाजिक तत्वों का प्रवेश रात के समय बना रहता है। चिकित्सकों व स्टाफो की मनमानी ड्यूटी के कारण मरीजों को इलाज के लिए तरसना पड़ता है।
वर्सन:
अगर ऐसी लापरवाही बरती गई है तो सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर डयूटी में तैनात कर्मचारियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. एसके सिंह बीएमओ पुष्पराजगढ़
------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned