सामूहिक रूप से शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा

रोकने की बजाय राजस्व अमला बना उदासीन

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 21 Jul 2021, 09:15 PM IST

अनूपपुर। बिजुरी उप तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत बहेराबांध में शासकीय भूमि पर सामूहिक रूप से अवैध कब्जा स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा किया जा रहा है। जिनके द्वारा निर्माण सामग्री गिराए जाने के साथ ही बाउंड्री वॉल तथा मकानों का निर्माण भी शुरू कर दिया गया है। जिस पर राजस्व विभाग के द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। मामले के संबंध में बताया जाता है कि कनई नदी के ऊपर ग्राम पंचायत बहेराबांध में लगभग 40 हेक्टेयर शासकीय भूमि स्थित है। जिस पर स्थानीय लोगों के द्वारा पिछले 1 महीने से अवैध रूप से निर्माण सामग्री गिराकर मकानों का निर्माण कार्य किया जा रहा है। इनमें मकान के साथ बाउंड्रीबॉल का निर्माण कर लिया गया है। वहंी कुछ अन्य लोगों द्वारा भी अतिक्रमण का जुगाड़ लगाते हुए व्यवस्था बना रहे हैं। जिसके कारण अधिकांश हिस्से अब अतिक्रमण की चपेट में आ गए हैं।
बॉक्स: सिर्फ नोटिस जारी करने तक सीमित विभाग
स्थानीय लोगों ने बताया कि अतिक्रमण के विरुद्ध राजस्व विभाग कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है । प्रतिदिन निर्माण सामग्री गिराए जाने के साथ मकान तथा बाउंड्री वाल बनाए जा रहे हैं और विभाग के द्वारा अब तक मात्र 15 लोगों को नोटिस जारी किए जाने की कार्रवाई कर छोड़ दी है।
वर्सन:
15 लोगों को नोटिस जारी किया गया है जल्द ही अतिक्रमण हटाए जाने की कार्रवाई की जाएगी।
अनुज केरकेट्टा, पटवारी बहेराबांध।
-----------------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned