मंडला गोलीकांड और सरकार गिराने के विरोध में कांग्रेस ने मनाया काला दिवस

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का फूंक पुतला की नारेबाजी, कार्यकर्ताओं से पुतला छींनने में पुलिस रही नाकाम

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 01 Jul 2020, 06:01 AM IST

अनूपपुर। मंडला जिले में २७ जून को एनएसयूआई जिला महासचिव की गोली मारकर हत्या और कांग्रेस सरकार के गिरे १०० दिन के विरोध में 30 जून को भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला दहन किया। दोपहर राष्ट्रीय सचिव मध्यप्रदेश प्रभारी नीतीश गौड़ एवं प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े के निर्देशानुसार प्रदेश सचिव संजय सोनी के नेतृत्व में अनूपपुर इंदिरा तिराहा पर मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। पुतला दहन के दौरान पुलिस बल तैनात रही। पुतला छीनने के लिए पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच छींनाझपटी भी हुई। लेकिन पुलिस पुतला छींनने में नाकाम रही। प्रदेश सचिव संजय सोनी ने बताया कि 27 को मंडला जिले के एनएसयूआई के जिला महासचिव सोनू परोचिया की निर्मम हत्या गोली मारकर की गई थी। जब मप्र में कमलनाथ की सरकार थी, प्रदेश में अमन शांति था एवं गुंडाराज पूरी तरह से खत्म हो गया था। लेकिन भाजपा ने विधायकों का खरीद फरोख्त करके कमलनाथ की सरकार गिरा दिया। प्रदेश में फिर से अपराध चरम सीमा पर है। कमलनाथ की सरकार को गिराए हुए 100 दिन हो गया है। जिसे लेकर मप्र में काला दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने शिवराज सिंह मुर्दाबाद, के साथ बिसाहूलाल सिंह के खिलाफ भी नारेबाजी की। पुतला दहन के दौरान जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल, कार्यवाहक जिलाध्यक्ष युवा धर्मेन्द्र सोनी, एनएसयूआई प्रदेश सचिव संजय सोनी, विनय कांत प्रजापति, प्रदेश उपाध्यक्ष पिछड़ा वर्ग लक्ष्मणदासजी महराज, ब्लाक अध्यक्ष अनूपपुर करतार सिंह, जिलाध्यक्ष सेवादल यंग ब्रिगेड जितेंद्र सोनी, रामलाल पटेल, अशोक पटेल, रवि पांडेय, वेदक पटेल, विक्रम महोबिया, सहित अन्य सैकड़ाभर कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
-----------------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned