किशोरी का मुंह दबाकर किया था ज्यादती, कोर्ट ने सुनाई 15 साल की सजा

किशोरी का मुंह दबाकर किया था ज्यादती, कोर्ट ने सुनाई 15 साल की सजा

Shubham Singh | Publish: Dec, 08 2018 09:17:51 PM (IST) | Updated: Dec, 08 2018 09:17:52 PM (IST) Anuppur, Anuppur, Madhya Pradesh, India

जान से मारने की दी थी धमकी

अनूपपुर। किशोरी के साथ ज्यादती करने वाले आरोपी को कोर्ट ने 15 साल की सजा सुनाई है। कोर्ट के इस फैसले से दूसरे लोगों को सबक मिलेगा। ज्यादती के दोषी ने किशोरी को शौच के लिए जाते समय जबरदस्ती मुंह दबा लिया और उसके साथ ज्यादती की। किशोरी के चिल्लाने पर जब उसकी मां पहुंची तो जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकला। इसके बाद परिजनों के साथ किशोरी ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।


अर्थदंड भी लगाया
किशोरी के साथ ज्यादती करने के मामले में न्यायालय विशेष न्यायाधीश पॉक्सो वारीन्द्र कुमार तिवारी ने प्रकरण 11/17 में आरोपी छोटू उर्फ कमल यादव पिता लखन यादव थाना चचाई को 15 वर्ष सश्रम कारावास और अलग-अलग धाराओं में 25-25 हजार रुपए का अर्थदंड एवं धारा 506 (ठ) के अपराध के लिए ३ वर्ष सश्रम कारावास एवं 1 हजार रुपए का सजा सुनाई है।

नित्यक्रिया के लिए घर से कुछ दूरी पर स्कूल के
पीछे गई थी

राज्य की ओर से जिला अभियोजन अधिकारी
रामनरेश गिरी द्वारा पैरवी की गई।
मीडिया प्रभारी सहायक जिला
अभियोजन अधिकारी राकेश कुमार
पांडेय ने बताया कि मामला थाना
चचाई का है। थाना चचाई अंतर्गत
पीडि़ता कक्षा आठवीं तक पढ़ाई की
थी। 13 अगस्त 2016 की रात 2 बजे
अपनी मां के साथ नित्यक्रिया के
लिए घर से कुछ दूरी पर स्कूल के
पीछे गई थी, जहां आरोपी छोटू उर्फ
कमल यादव ने उसका मुंह दबाकर
उसके साथ ज्यादती की। किसी तरह
हाथ छुड़ाकर चिल्लाई तो उसकी मां
दौड़कर आयी। तब आरोपी भाग गया
और जाते-जाते बोला किसी को
बताने पर जान से खत्म करने की
धमकी दी। घटना की रिपोर्ट थाना
चचाई में की गई, जहां विवेचना
उपरांत न्यायालय में पेश किया गया।
प्रकरण में अभियोजन के कई
साक्षीगण अभियोजन का समर्थन
नहीं किए थे एवं पक्षद्रोही हो गए थे।
लेकिन जिला अभियोजन अधिकारी
द्वारा प्रस्तुत तर्को को प्रमाणित मानते
हुए आरोपियों को दंडित किया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned