मजदूरों व किसानों का प्रदर्शन हुआ उग्र, उत्पादन कार्य पर जा रहे कर्मचारियों को खदेड़ा

कॉलरी प्रबंधन ने थाना प्रभारी को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग, चार दिनों से खदान का उत्पादन ठप

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 24 Jan 2021, 11:27 AM IST

अनूपपुर। एसईसीएल जमुना कोतमा क्षेत्र अंतर्गत आमाडांड खुली खदान परियोजना में काम से निकाले गए 58 मजदूर व उनके परिजनों के साथ किसान मजदूर प्रतिष्ठा मंच(गोंगपा) के साथ पिछले चार दिनों से कॉलरी मुख्य गेट पर अपनी मांगों में धरना पर बैठे श्रमिकों का प्रदर्शन शनिवार को उग्र हो गया। जहां हथियारबंद भीड़ ने सुबह कार्य पर कॉलरी परिसर आए कर्मचारियों व पदाधिकारियों को कार्य पर नहीं आने की नियत से खदेड़ दिया। भयभीत कर्मचारी पदाधिकारी इधर उधर छिप गए। जहां कॉलरी प्रबंधन के हस्तक्षेप के बाद सभी कर्मचारियों व अधिकारियों को कॉलरी परिसर में लाया गया। इस घटना के बाद कॉलरी प्रबंधन ने मामले में गम्भीरता दिखाते हुए तत्काल थाना प्रभारी को पत्र लिखकर मामले में सम्बंधितों के खिलाफ कार्रवाई करने और सुरक्षा प्रदान की अपील की। विदित हो कि कॉलरी द्वारा पिछले १३ साल से कार्यरत लगभग ५८ कर्मचारियों को अपात्र बताते हुए नौकरी से निकाल दिया था। जिसके बाद बाहर निकाले गए कर्मचारियों के समर्थन में गोंगपा के तत्वाधान में किसान मजदूर प्रतिष्ठा मंच व कर्मचारियों के परिजनों ने कॉलर के गेट पर नौकरी पर वापस लिए जाने की मांग करते हुए धरना प्रदर्शन आरम्भ कर दिया था। २२ जनवरी को अपर कलेक्टर ने मामले में हस्तक्षेप करते हुए प्रबध्ंान से बाहर निकाले गए कर्मचारियों के सम्बंध में जानकारी लेने के साथ उनके द्वारा की गई कार्रवाई की वैधानिकता पर पूछताछ की थी।
बॉक्स: कॉलरी प्रबंधन ने कार्रवाई की मांग
्र23 जनवरी को हुई इस घटना के बाद खान प्रबंधक ने थाना प्रभारी रामनगर को पत्र लिखते हुए कार्य पर उपस्थित श्रमिकों को धारदार हथियार लेकर दौड़ाने तथा कॉलरी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की आशंका जताते हुए आंदोलन में शामिल व्यक्तियों के विरुद्ध अपराधिक मामला दर्ज किए जाने तथा सुरक्षा दिलाए जाने की मांग की गई है। साथ ही बताया कि शनिवार को कोयला उत्पादन पूरी तरह से ठप रहा। और बताया कि जो कर्मचारी किसी तरह भीड़ से बचकर कार्यालय परिसर तक पहुंच भी गए उन्हें भी आंदोलनकारियों के द्वारा कॉलरी परिसर में घुसकर कार्य न करने तथा बात नहीं मानने पर धमकी दी गई है।
--------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned