नहीं ली सुध, बदहाल सड़क से संगम तक पहुंचेंगे श्रद्धालु

अस्तित्व खो रहा सीतापुर का पौराणिक मेला स्थल

अनूपपुर। जिला मुख्यालय स्थित सोन-तिपान संगम स्थल पर मकर संक्रात के अवसर पर लगने वाली दो दिवसीय मेला प्रशासन व ग्राम पंचायत जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा में अव्यवस्थित बनी हुई है। मुख्य मार्ग से लेकर संगम स्थल पहुंच मार्ग उबड़-खाबड़ बनी हुई है। प्रवेश मार्ग पर ही बारिश के पानी से कीचडय़क्त सडक़ से आवाजाही के लिए भी जगह नहीं दिख रही है। वहीं लगभग किलोमीटर भर लम्बे रास्ते में जगह जगह गड्ढे व कीचड़ जमा हुआ है। जबकि जंगली झाडिय़ों के बीच से गुजरी कच्ची सडक़ पर रोशनी के इंतजाम के लिए बिजली व्यवस्था भी नदारद है। यहां तक कि मेला स्थली पर पहुंचने वाले हजारों श्रद्धालुओं के मूलभूत सुविधाओं के लिए भी कोई व्यवस्था नहीं की गई है। जिसके कारण १४ जनवरी मंगलवार से आयोजित होने वाली संक्रात मेला स्थली पर अब भी वीरानी जैसा माहौल बना हुआ है। स्थानीय ग्रामवासियों के अनुसार रीवा रियासत के समय से यहां मेला का आयोजन होता आया है। यहां आयोजित होने वाले मेले में शामिल होने के लिए चिरमिरी, पेंड्रा, कोतमा, भालूमाड़ा, शहडोल, राजेन्द्रग्र्राम, रामपुर खांडा व आसपास के लगभग सैकड़ों गांव के लोग आते थे। मेला तीन दिन आयोजित होता था। लेकिन अब तो प्रशासकीय अनदेखी में यह शेष मात्र बच गया है। लोगों की माने तो यहां तीन दिनों तक आयोजित मेले में भीड़भाड़ होती होती थी। सडक़े अच्छी थी, दूर-दराज के व्यापारियों की दुकानें सजती थी, रामलीला का मंचन होता था। सारी रात लोगों की निगाहें राम-लक्ष्मण-सीता और रावण के किरदार पर टिका होता था। लेकिन अब मंच के अवशेष ही बचे हैं। यहां कोई रामलीला अब आयोजित नहीं होती। दुकानें भी नाममात्र की लग रही है। मेले में आने वाले लोगों को पूर्व की भांति सुरक्षा की कमी महसूस होती है। जिसके कारण दूर-दराज से आने वाले व्यापारियों ने मेले से दूरी बना ली। जबकि ग्राम पंचायत के नाम पर बैठकी में अधिक की राशि वसूली कर अन्य स्थानीय व्यापारियों को दूर रखने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाती है। सोन-तिपान संगम तट पर आयोजित होने वाला दो दिवसीय संक्रात मेला ग्राम पंचायत बरबसपुर के भरोसे आयोजित हो रहा है।
बॉक्स: मकरसंक्रात पर नर्मदा में लाखों श्रद्धालु लगाएंगे डुबकी
मकरसंक्रात के मौके पर अमरकंटक के नर्मदा जलसरोवर में लाखों श्रद्धालु स्नानदान कर मां नर्मदा मंदिर में विशेष पूजन अर्चन करेंगे। जिसमें सुरक्षा व्यवस्थाओं से लेकर सफाई की व्यवस्था पुलिस और जिला प्रशासन द्वारा किया गया है। वहीं गोंगपा द्वारा आयोजित मिलन समारोह कार्यक्रम भी जोरों पर तैयार की जा रही है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन ने बताया कि अमरकंटक के लिए २२५ जवान तैनात किए गए हैं। जिसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक की मॉनीटरिंग में ३ डीएसपी अधिकारी, ८ बाइक पेट्रोलिंग दस्ता, ४ पेट्रोलिंग वाहन दस्ता सहित सेक्टर वाइज जवान तैनात किए गए हैं। इनमें १ डीएसपी अधिकारी सहित २५ महिला बल भी तैनात है।
----------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned