केवई नदी से दूर होगी बिजुरी नगर की पेयजल समस्या

डोला की जगह अब केवई से पेयजल लाने की तैयारी, डीपीआर तैयार कर स्वीकृति के लिए विभाग को भेजा

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 14 Jun 2021, 12:48 PM IST

अनूपपुर। बिजुरी नगर पालिका क्षेत्र में वर्षो से बन रही पेयजल समस्या को दूर करने के लिए अब केवई नदी से जलापूर्ति कर फिल्टर प्लांट के माध्यम से जलापूर्ति कराई जाएगी। इसके लिए पूर्व में प्रस्तावित डोला की जगह अब केवई नदी से पेयजल लाने की तैयारी में नपा ने डीपीआर तैयार स्वीकृति के लिए विभाग को भेजा है। स्वीकृति मिलने के उपरांत जल्द ही टेंडर के माध्यम से कार्य को पूरा किया जाएगा। इससे पूर्व मुख्यमंत्री शहरी नल जल योजना के तहत डोला में बंद पड़ी ओपन कास्ट खदान में संग्रहित होने वाली वर्षा जल की सप्लाई नगर में करते हुए पेयजल आपूर्ति किए जाने की योजना बनाई गई थी। जिसके बाद पाइप लाइन विस्तार के दौरान ही डोला के स्थानीय लोगों के द्वारा इस पर विरोध जताते हुए कार्य नहीं करने दिया गया। जिसके कारण अब नगर पालिका के द्वारा केवई नदी से पाइप लाइन के माध्यम से पेयजल की उपलब्धता बनाई जा रही है। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री शहरी नल जल योजना के अंतर्गत नगर पालिका बिजुरी के द्वारा 16 करोड़ 57 लाख की लागत से 15 वार्ड में पेयजल वितरण की योजना बनाई गई थी। जिसके निर्माण का ठेका ब्रिज एंड रूफ प्राइवेट लिमिटेड कोलकाता को दिया गया था। जिसके द्वारा बिजुरी से डोला तक 12 किलोमीटर पाइप लाइन का विस्तार भी किया जा चुका है। लेकिन इसी दौरान डोला के स्थानीय निवासियों ने भी अपने क्षेत्र में पानी की समस्या को बताते हुए कार्य का विरोध किया। जिसमें बाद में कार्य बंद कर दिए गए। साथ ही पंचायत के द्वारा अनापत्ति भी प्रदान नहीं की गई।
बॉक्स: 78 लाख की लागत से बनकर तैयार फिल्टर प्लांट का भवन
नल जल योजना के लिए प्रमुख पेयजल स्रोत की व्यवस्था अभी तक आधिकारिक रूप से निश्चित नहीं हो पाई है। वहीं कुरजा कॉलरी के समीप झरिया टोला मार्ग पर 78 लाख रुपए की लागत से फिल्टर प्लांट बनकर तैयार हो चुका है। जिसे डोला परियोजना के अनुसार बनाया गया था, लेकिन अब केवई से यदि पानी लाया जाता है तो बेवजह यहां तक पाइपलाइन लाना पड़ेगा। वहंी दूसरी ओर डोला पेयजल परियोजना को स्थानीय जनों के विरोध के बाद बदलना पड़ रहा है। पिछले 3 वर्षों से निर्माण एजेंसी के द्वारा पाइप लाइन विस्तार तथा ओवरहेड टैंक एवं इंटेक वेल टैंक निर्माण में लेटलतीफी भी की जा रही है। केवई से जलापूर्ति के लिए नगर पालिका अध्यक्ष पुरुषोत्तम सिंह के द्वारा नगरीय निकाय विभाग से पत्राचार करते हुए जल्द प्रारंभ करने की स्वीकृति मांगी गई है।
वर्सन:
केवई नदी से पेयजल व्यवस्था नगर में बनाने के लिए अलग से डीपीआर बनाकर स्वीकृति के लिए भेजा है। जल्द ही अनुमति मिलने के बाद कार्य आरम्भ कर दिया जाएगा। इससे नगर में पेयजल की समस्या हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगी।
पुरूषोत्तम सिंह, अध्यक्ष नगरपालिका बिजुरी।
----------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned