डीआरएम ने स्टेशन की गंदगी पर जताई नाराजगी

अनूपपुर रेलवे स्टेशन का औचक निरीक्षण

By: shivmangal singh

Published: 07 Jun 2018, 05:59 PM IST

अनूपपुर. बिलासपुर रेल मंडल के मुख्य रेल प्रबंधक आर राजगोपाल बुधवार की दोपहर २.३० बजे औचक निरीक्षण में अनूपपुर रेलवे स्टेशन उतरे, जहां रेलवे स्टेशन परिसर का निरीक्षण कर साफ-सफाई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। स्टेशन के यात्री प्रतीक्षालय सहित उनके अंदर बने बाथ रूम की जांच की। जिसमें गंदगी देखकर डीआरएम भड़क गए। स्टेशन परिसर की सफाई पर डीआरएम ने असंतोष जाहिर कर मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक सहित टीम के अन्य पदाधिकारियों की जमकर फटकार लगाई, साथ ही चेतावनी दी कि दुबारा आने पर सफाई व्यवस्था बेहतर नहीं पाई गई तो कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं फुड काउंटर ठेकेदार द्वारा रेलवे स्टेशन परिसर के वाटर कुलर बंद कर अपनी ठंडी बोतलबंद पानी को उंची कीमत पर बिकवाली किए जाने की शिकायत पर इलेक्ट्रिक विभाग के अधिकारी को चेतावनी दी। इस मौके पर खुद मुख्य रेल प्रबंधक ने वाटरकुलर मशीन की जांच पड़ताल कर कुलर की तस्वीर ली। जांच में मुख्य रेल प्रबंधक ने वाटरकुलर मशीन को बंद पाया। बताया जाता है कि बिलासपुर जोन मुख्य रेल प्रबंधक आर राजगोपाल अम्बिकापुर रेलवे स्टेशन के निरीक्षण में बिलासपुर से रवाना हुए थे। जहां अनूपपुर मुख्य मार्ग से अम्बिकापुर रूट जाने के कारण बिलासपुर से प्रस्थान के उपरांत व सीधे अनूपपुर रेलवे स्टेशन पहुंचे। मुख्य रेल प्रबंधक के अनूपपुर स्टेशन आगमन पर स्थानीय लोगों ने पूर्व रेलवे की प्रस्तावित योजनाओं सहित अन्य मांगों पर ध्यानाकर्षण करते हुए प्रस्तावित निर्माण कार्यो के शुभारम्भ की मांग की। इनमें रेलवे ओवरब्रिज निर्माण में अबतक कोई भी कार्य आरम्भ नहीं होने, प्लेटफार्म ४ और ५ तक पहुंचने वाले दूसरी दिशा के यात्रियों के लिए टिकट विंडो भवन का निर्माण कराने, प्लेटफार्म ४ व ५ तक दिव्यांगों के पहुंच के लिए सुविधाओं की व्यवस्था कराने, जर्जर हो चुकी रेलवे पैदल ओवरब्रिज की जगह अन्य सुविधायुक्त ओवरब्रिज के निर्माण, रेलवे की जमीन पर हो रहे अतिक्रमण तथा रेलवे ओवरब्रिज के टेंडर जारी उपरांत भी अबतक निर्माण कार्य प्रारम्भ नहीं किए जाने के विरोध में अनूपपुर विधायक द्वारा एक सप्ताह बाद किए जाने वाले धरना विरोध में रेलवे द्वारा समय निर्धारण की मांग जैसी बातें शामिल रही। बताया जाता है कि अनूपपुर रेलवे जक्शन पर मुख्य रेल प्रबंधक लगभग डेढ़ घंटे तक रूके, जहां शाम ४ बजे शहडोल-अम्बिकापुर सवारी गाड़ी से अम्बिकापुर के लिए रवाना हुए। सूत्रों के अनुसार मुख्य रेल प्रबंधक अपने सैलून से अनूपपुर जक्शन से अम्बिकापुर रेलवे स्टेशन तक निरीक्षण करेंगे। वहीं ७ जून को अम्बिकापुर के निरीक्षण उपरांत ८ जून को पुन: अनूपपुर होते हुए बिलासपुर के लिए रवाना होंगे। मीडिया से रूबरू होने पर मुख्य रेल प्रबंधक ने शिकायतों पर रेलवे स्टेशन सहित अन्य मामलों में मिली शिकायतों पर जांच का भी आश्वासन दिया है।
रेलवे मजदूर कांग्रेस ने सौंपा ज्ञापन
डीआरएम के अनूपपुर आगमन पर रेलवे मजदूर कांग्रेस महामंत्री लक्ष्मण राव के मार्गदर्शन में क्षेत्र की समस्याओं को लेकर पांच सूत्री मांगों पर ज्ञापन को सौंपा गया। जिसमें तिपान नदी से होने वाली जलापूर्ति की समस्या, सीआईसी क्षेत्र के रेल कॉलोनियों में सफाई ठेका समाप्ती पर तत्काल ठेका, रेलवे कर्मचारियों के परिवारों के सामूहिक कार्यक्रमों व अन्य कार्यो के लिए मिनी सांस्कृति भवन निर्माण, सीनियर सेक्शन इंजीनियर कार्य का नया पद स्टाफ सहित मंजूर किया जाए इसका कार्य क्षेत्र कोतमा, जैतहरी, बुढार के अंतर्गत रखा जाए शामिल हैं।

shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned