पहले अनदेखी और लापरवाही, संक्रमण बढ़ा तो दोबारा लगाया कोरोना कफ्र्यू,3 मई तक पूर्णत प्रतिबंध

अनूपपुर हुआ लॉकडाउन, आवश्यक सेवाओं को छोडक़र सुबह 6 से दोपहर 12 बजे तक होम डिलेवरी से मिल सकेंगे किराना व राशन

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 21 Apr 2021, 11:42 AM IST

अनूपपुर। जिले में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामले में पहले अनदेखी और लापरवाही बरती गई, संक्रमण का दायरा इतना बढ़ा की प्रशासन की मुश्किलें बढ़ गई। हालात यह बने कि एक दिन में कोरोना संक्रमितों की तादाद ४०० तक आ पहुंची। जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने आनन फानन में संक्रमण पर रोक और मौतों पर अंकुश पाने २० अप्रैल की सुबह जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की और लिए गए निर्णयों के उपरांत जिले में आगामी ३ मई तक लगभग १३ दिनों का कोरोना कफ्र्यू लगाने की घोषणा कर दी। यह कोरोना कफ्र्यू मंगलवार की शाम 6 बजे से 3 मई की सुबह 6 बजे तक लगाया गया है। इस दौरान किसी भी व्यक्ति के घर से निकलने पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा, सभी मेडिकल स्टोर, टीकाकरण केंद्र, अस्पताल प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। सुबह 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक दूध, सब्ज़ी, राशन, किराना विक्रेता, पेयजल विक्रेता होम डिलीवरी के माध्यम से सामग्री विक्रय कर सकेंगे। होम डिलीवरी के लिए चिह्नित वालंटियर सहयोग करेंगे। थोक सब्ज़ी मंडी सम्बंधित एसडीएम द्वारा चिह्नित स्थलों में सुबह 6 बजे से 9 बजे तक लगाई जा सकेगी। जबकि आवश्यक सामग्री मालवाहक, एलपीजी, दूध, टीकाकरण एवं चिकित्सकीय कारणों के अतिरिक्त वाहन मूवमेंट की अनुमति नहीं होगी। समस्त मंदिर, मस्जिद तथा अन्य समस्त धार्मिक स्थल आम जनों के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे। जबकि पुजारी और मौलवी संबंधित धार्मिक स्थलों में अधिकतम 5 लोग नियमित पूजा व नमाज कर सकेंगे।
बॉक्स: इन्हें रहेगी छूट
कोरोना कफ्र्यू के दौरान जिले में स्थापित मोजर वेयर पावर प्लांट जैतहरी, अमरकंटक ताप विद्युत केन्द्र चचाई, सोडा फैक्ट्री बरगवां तथा जिले के सभी एसईसीएल प्रबंधन सिर्फ उत्पादन से संबंधित कर्मचारी उत्पादन कार्य करने के लिए मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते इस कफ्र्यू प्रतिबंध से मुक्त रहेगें। गैर उत्पादन करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों का कार्यालय आना पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। कार्यालयीन कार्य पूर्णत: बंद रहेंगे। साथ ही जिले की सभी एलपीजी गैस के संचालक तथा एलपीजी गैस का वितरण होम डिलिवरी के माध्यम से सुबह 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक कर सकेंगे। जिले में संचालित सभी पेट्रोल पंप खुले रहेंगे।
बॉक्स:
प्रशासनिक स्तर पर घोषित किए गए लॉकडाउन में इस बार प्रशासन ने आवश्यक सेवाओं से जुड़े शासकीय विभागों को छोडक़र शेष शासकीय व अशासकीय कार्यालयों के खुलने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। शासकीय आदेश में सिर्फ राजस्व विभाग, नगरीय निकाय, स्वास्थ्य विभाग, पंचायत विभाग, विद्युत विभाग, पेयजल विभाग तथा पुलिस विभाग आवश्यकतानुसार कर्मचारियों की संख्या में खुले रहेंगे। जिले में संचालित अन्य सभी शासकीय व अशासकीय तथा अद्र्धशासकीय कार्यालय पूर्णत: बंद रहेंगे।
-------------------
बॉक्स: विवाह में ५० तो अंतिम संस्कार में २० की अनुमति
कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में विवाह कार्यक्रम में अधिकतम 50 लोग तथा अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 लोगों के शामिल होने के निर्देश दिए हैं। इन कार्यक्रमों की अनुमति भी संबंधित क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) द्वारा जारी होगा।
बॉक्स: खाद्य मंत्री ने चिकित्सकों से कोरोना पर ली जानकारी, कहा- संसाधनों की कमी नहीं
एक ओर जहां जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक के बाद प्रशासन ने ३ मई तक लॉकडाउन की घोषणा की, वहीं प्रदेश खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने सर्किट हाउस में वरिष्ठ चिकित्सकों के साथ बैठक कर कोरोना संक्रमण की समीक्षा की। सीएमएचओ ने मंत्री को जानकारी देते हुए चिकित्सकों की कमी से भी अवगत कराया। खाद्य मंत्री ने कहा कोरोना के इलाज में कोई कोताही नहीं बरती जा रही है। लोग संक्रमण से बचाव करें तथा बीमारी के लक्षण आने पर धैर्य बनाए रख कर बिना डरे चिकित्सकों की सलाह पर स्वयं को आईसोलेट करें।
-----------------------------------------------

Show More
Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned