हितग्राहियों को एक साथ नहीं मिल रह खाद्यान्न, 28 दुकानों तक नहीं पहुंचे दो महीने का अनाज

बार बार हितग्राहियों को दुकानों को लगाना होगा चक्कर, शासन ने एक साथ तीन महीने के खाद्यान्न वितरण के दिए हैं आदेश

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 06 May 2021, 12:27 PM IST

अनूपपुर। जिले में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे १.४० लाख हितग्राहियों के लिए शासन के आदेश में तीन माह का एक साथ अनाज वितरण के निर्देश कागजी साबित हो रहा है। अप्रैल माह में जारी हुए आदेश के बाद भी मई माह के दौरान अधिकाशं दुकानों पर अनाज का आवंटन विभाग द्वारा पूरा नहीं कराया जा सका है। जबकि गोदामों में अनाज का भंडारण उपलब्ध है, लेकिन परिवहन के अभाव में गोदामों से राशन की दुकानों तक अनाज की पहुंच नहीं हो सकी है। जिसके कारण अनाज के लिए हितग्राहियों को प्रति माह राशन की दुकान का चक्कर लग रहा है। इनमें शासन की ओर से नि:शुल्क अनाज हितग्राहियों को उपलब्ध कराने की योजना परेशानी का सबब बन गई है। हालांकि शासन द्वारा जारी किए गए आदेश में पूर्व में ही विलम्बता के कारण ८० प्रतिशत हितग्राहियों को अप्रैल माह का राशन दुकानों से नगद वितरित कराया जा चुका था। इसमें विभाग द्वारा जिन हितग्राहियों को अप्रैल माह के दौरान राशि से अनाज उपलब्ध कराए गए थे, उनका जुलाई माह के दौरान नि:शुल्क दिए जाने का आश्वासन दिया गया है। और मई और जून माह का एक साथ अनाज वितरण के निर्देश दिए थे। लेकिन जिले के २८ दुकानों पर अबतक जून माह के लिए आवंटन के अनाज उपलब्ध नहीं कराए गए हैं। जिसके कारण इन २८ दुकानों से हितग्राही मात्र मई माह के अनाज का उठाव कर रहे हैं।
बॉक्स: कहां गए नोडल और निगरानी समिति सदस्य
तीन माह के राशन वितरण में जिला प्रशासन ने खाद्यान्नों के कालाबाजारी या हितग्राहियों को कम उपलब्ध कराने पर अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिसमें जिला खाद्य आपूर्ति विभाग अधिकारी, नागरिक आपूर्ति प्रबंधक के साथ स्थानीय एसडीएम, तहसीलदार, उपपंजीयक सहकारिता-सहकारी समितियों के अधिकारी शामिल किए गए थे। इनके द्वारा उचित मूल्य की दुकानों पर नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया, जहां निगरानी समिति के सदस्यों की उपस्थिति में राशन का वितरण किया जा रहा है। ऐसे में हितग्राहियों से थम्ब मशीन पर पहचान लगवाने के उपरांत दो माह के खाद्यान्न क्यों नहीं उपलब्ध कराए गए। नोडल अधिकारियों या निगरानी समिति के सदस्यों ने जानकारी क्यों नहीं भेजी।
बॉक्स: कहां कितने हितग्राही
अनूपपुर विकासखंड में २३३४३,जैतहरी में ४१४८६, कोतमा में १३३३७, पुष्पराजगढ़ में ५१५४३ हितग्राही है, जबकि नगरपालिका क्षेत्र अनूपपुर में १८९९, जैतहरी में११३५, बिजुरी में २३०७ अमरकंटक में ९१६, पसान में १९२९ तथा कोतमा में २७२७ हितग्राही हैं।
वर्सन:
तीन माह के खाद्यान्न की योजना है, जिसमें मई जून माह का एक साथ अनाज देना था। परिवहन के अभाव में दुकानों पर राशन नहीं पहुंचें हैं। जल्द ही अनाज उपलब्ध करा दिया जाएगा।
एके श्रीवास्तव, जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी अनूपपुर।
-----------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned