वेतन की मांग में दूसरे दिन भी नगरपालिका कर्मचारियों का काम बंद हड़ताल, नगर में कूड़ों के लगे ढेर

85 से अधिक कर्मचारी हड़ताल में शामिल, कांग्रेस ने हड़ताल का दिया समर्थन

By: Rajan Kumar Gupta

Updated: 13 Sep 2021, 12:00 PM IST

अनूपपुर। कोरोना महामारी के दौरान नगरीय प्रशासन संचालनालय द्वारा नगरपालिका अनूपपुर के बजट में की गई ११ लाख की कटौती से नगरपालिका में कार्यरत कर्मचारियों की परेशानी बढ़ गई है। पर्व-त्योहारों से लेकर मासिक मानदेय व स्थायी कर्मचारियों के वेतन भुगतान के भी लाले पड़ गए हैं। प्रशासक द्वारा नगरपालिका कर्मचारियों का ४ माह का पारिश्रमिक भुगतान नहीं करने से नाराज कर्मचारियों ने ११ सितम्बर से नगरपालिका गेट के सामने बैठकर काम बंद हड़ताल आरम्भ कर दी है। १२ सितम्बर को काम बंद हड़ताल का दूसरा दिन रहा, जिसमें दिनभर कर्मचारियों ने तंबू के नीचे बैठकर प्रशासक के खिलाफ नारेबाजी की। नगरी कर्मचारियों की हड़ताल के समर्थन में कांगे्रस ने भी समर्थन देते हुए धरना प्रदर्शन स्थल पर बैठे और प्रशासक से उनकी मांगों को पूरा करने की अपील की। बताया जाता है कि काम बंद हड़ताल में दैनिक वेतन भोगी सफाई कर्मचारी के साथ स्थायी कर्मचारी शामिल हैं। वहीं कर्मचारियों के हड़ताल पर बैठने से नगरपालिका के सभी काम काज ठप पड़ गए हैं। आपातकालीन सेवाओं में बिजली और पानी की व्यवस्था को छोडक़र विभागीय स्तर के सभी काम बंद हैं। इनमें सबसे अधिक नगर के १५ वार्डो की सफाई व्यवस्था प्रभावित हो गई है। जगह जगह कूड़े-कचरे का ढेर लगा है। बारिश के कारण ये कचरा सडक़र दुर्गंध मारने लगी है। अगर यह हड़ताल एकाध सप्ताह तक चली तो नगर में गंदगी की ढेर लग जाएगी। बताया जाता है कि नगरपालिका में ८५ से अधिक सफाई कर्मचारी और स्थायी कर्मचारी है। इसके अलावा कुछ अतिरिक्त कर्मचारियों को भी दैनिक भोगी के रूप में रखकर जरूरत के अनुसार काम कराया जाता है। लेकिन फिलहाल नगरपालिका अनूपपुर का कार्यालय वीरान पड़ा है।
बॉक्स: गंदगी के बीच गणेश उत्सव
गणपति उत्सव से पूर्व शांति समिति की बैठक में नगरीय प्रशासक द्वारा सफाई, बिजली, पानी सहित अन्य जरूरतों की सुविधा बनाए रखने आश्वस्त किया गया था। वहीं १० सितम्बर से गणपति की पूजा अर्चना आरम्भ हो गई। लेकिन सफाई कर्मचारियों के हड़ताल से नगर में गंदगी का आलम बना हुआ है। नगर की गलियों से लेकर मुख्य मार्ग में कूड़ों के ढेर लगे हैं, सब्जी बाजार में दुर्गंध आने लगी है। जिसके कारण चौक-चौराहों पर विराजमान गणपति पूजा उत्सव प्रभावित होने लगी है। वहीं सफाई नहीं होने से लोगों में आक्रोश भी पनप रहा है।
----------------------------------------------------

Show More
Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned