लोकसेवा कर्मचारियों के नियमितीकरण और मानदेय के लिए पूर्व विधायक ने सीएम को लिखा पत्र

9 वर्षो से कार्यो का हवाल देते हुए दोनों मांगों को पूर्ण की अपील

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 29 Dec 2020, 11:49 AM IST

अनूपपुर। लोक सेवा प्रबंधन विभाग अंतर्गत जिला स्तर पर पदस्थ जिला प्रबंधक (लोक सेवा) एवं कार्यालय सहायक(लोक सेवा) का मानदेय व नियमितीकरण के लिए अवसर प्रदान के सम्बंध में अनुशंसा के लिए पूर्व विधायक व भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष रामलाल रौतेल ने सीएम शिवराज सिंह को पत्र लिखा है। जिसमें दो मुख्य मांगों नियमितीकरण और मानदेय को पूर्ण की अपील की है। लिखे गए पत्र में पूर्व विधायक ने बताया है कि मप्र लोक सेवाओं के प्रदान की गांरटी अधिनियम २०१० के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए जिला स्तर पर एक-एक पद संविदा जिला प्रबंधक(लोक सेवा)एवं संविदा कार्यालय सहायक (लोक सेवा) का पद सृजित किया गया था। लोक सेवा गांरटी अधिनियम, सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई, लोक कल्याण शिविर सहित अन्य क्रियान्वयन और सुशासन के लिए अपना विशेष योगदान पिछले ९ वर्षो से सेवा देते आ रहे हैं। लेकिन भोपाल से सम्बंधितों की नियुक्ति दिनांक से आजतक मूल वेतन का पुनर्निधारण नहीं किया गया है। जबकि इसी कार्य के लिए वर्ष २०१६ में राजस्व कार्यालयों में संविदा पर कार्यालय सहायक सह डाटा एंट्री ऑपरेटरों की भर्ती किया गया, और सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा आदेश जारी कर ५ जून २०१८ की नीति अनुसार उन्हें पारिश्रमिक का ९० फीसदी मानदेय दिया जा रहा है। उन्हीं आदेशों के अनुसार इनकी भी अनुशंसा की जाए की अपील की गई है।
------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned