रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी, जमानत याचिका निरस्त, भेजा जेल

आरोपियों ने दिल्ली में रेलवे में नौकरी देने की आड़ में थमाया था प्रमाण पत्र और खाते में डलवाया था10-10 लाख

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 16 Sep 2020, 06:01 AM IST

अनूपपुर। दिल्ली में रेलवे में नौकरी दिलाने के झांसे में १०-१० लाख की राशि ठगी करने के मामले में न्यायाधीश नितेन्द्र सिंह तोमर ने २९ वर्षीय आरोपी अभिनीत यादव पिता हरकेश कुमार यादव निवासी फरेदपुर कुंडा जिला प्रतापगढ उप्र की जमानत याचिका निरस्त कर दी है। मीडिया प्रभारी राकेश पांडेय ने बताया की मामला रामनगर थाना से सम्बंधित है। जिसमें आरोपी द्वारा रेलवे के अधिकारियों से जान पहचान होने का और अपनी जान पहचान से नौकरी दिला देने का झांसा देते हुए राजेन्द्र कुमार यादव से कहा नौकरी प्राप्त करने के लिए 10-10 लाख रूपए लगेंगे। इसी आधार पर कई लोगों से लाखों रूपए की ठगी की गई का भांडाफोड होने पर फरियादी द्वारा घटना की सूचना रामनगर थाना सहित पुलिस के आला अधिकारियों को दी। आरोपीगण के विरूद्ध मामला दर्ज कर विवेचना आरोपी अभिनीत यादव जो कि किसी अन्य अपराध में छत्तीसगढ में निरूद्ध था को प्रोडक्सन वारंट में तलब कर रिमांड में लिया गया। अभियोजन अधिकारी राजगौरव तिवारी द्वारा जमानत आवेदन का इस आधार पर विरोध किया गया कि अपराध गंभीर प्रकृति का है। आरोपी को जमानत का लाभ दिए जाने पर वह साक्ष्य प्रभावित कर सकता है व फरार हो सकता है।
--------------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned