scriptNotice on low milling here, silence on stealth loading-unloading of 90 | यहां कम मिलिंग पर नोटिस, वेयरहाउस से 900 क्विंटल चावल की चुपके से हो रही लोडिंग-अनलोडिंग पर खामोशी | Patrika News

यहां कम मिलिंग पर नोटिस, वेयरहाउस से 900 क्विंटल चावल की चुपके से हो रही लोडिंग-अनलोडिंग पर खामोशी

मिल और वेयरहाउस पर चावल व धान की अनियमिता के मामले, कार्रवाई कागजों तक सिमटी

अनूपपुर

Published: June 07, 2022 11:45:05 am

अनूपपुर। जिले में खाद्यान्न अनियमितताओं को लेकर मिल और वेयरहाउस सुर्खियों में रहे हैं। जहां लाखों से लेकर करोड़ों की गड़बड़ी के बाद भी सम्बंधित दोषियों के खिलाफ विभाग आरोप तय नहीं कर सका है। इनमें ७५ लाख ८५ हजार ५०० रुपए के धान गबन मामले में शामिल कोतमा स्थित आयशा मिल के मालिक पर ४ माह बाद भी कार्रवाई नहीं हो सकी है। जबकि विभाग ने इस प्रकरण में धान की वापसी के लिए उसके मिल को भी सील कर दिया था। वहीं ५ माह पूर्व कोतमा स्थित अन्नपूर्णा वेयरहाउस से बिना विभागीय अनुमति और ठेका समाप्त हो चुके परिवहनकर्ता के वाहन से तीन ट्रक लगभग ९०० क्विंटल चावल के लोडिंग-अनलोडिंग का मामला विभागीय जांच और भोपाल भेजी गई रिपोर्ट के बाद लगभग बंद सा हो गया है। यहां विभागीय अधिकारियों ने जांच रिपोर्ट के भोपाल भेजने के बाद अपनी कार्रवाई से पल्ला झाड़ लिया है। नागरिक आपूर्ति अधिकारी एके रावत का कहना है कि इस मामले में भोपाल से मिले आदेशों के बाद ही कार्रवाई होगी। जबकि आयशा मिल के मामले में जिला खाद्य आपूर्ति विभाग की कार्रवाई की बात कहते हुए दूरी बना ली है। लेकिन कुछ भी विभाग ने दोनों मामले में दोषियों को अभयदान दे दिया है।
गायब ७५ लाख की धान की हुई वापसी, कम मिलिंग पर नोटिस
कोतमा जेएसओ सीमा सिन्हा ने बताया कि कोतमा की आयशा मिल से 3890 क्विंटल धान गायब पाए गए थे। गायब धान की कीमत लगभग 75 लाख 85 हजार 500 रूपए आंकी गई थी। इस सम्बंध में ६ नोटिस जारी किए गए थे। मिलर ने कोई जवाब नहीं दिए जाने पर 4 फरवरी को नान प्रबंधक और डिप्टी कलेक्टर विजय डहेरिया के निर्देश में जिला खाद्य आपूर्ति विभाग ने मिल को सील कर दिया था। सम्बंधित मिलर को नोटिस जारी कर तीन दिनों में जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए थे। बाद में मिलर उपस्थित हुआ जवाब में उसने पारिवारिक कारणों में मिल बेचना और धान के अन्य गोदाम में रहने की जानकारी दी थी। इसमें गायब तीन लॉट के धान वापस कर दिए। लेकिन विभाग ने मिलिंग के अनुबंधों के आधार पर कम मात्रा में मिलिंग करने पर नोटिस जारी किया है। आयशा मिल की मिलिंग क्षमता 28800 एमटी (लगभग 288000 क्विंटल) है। इसके तहत उसे 8640 एमटी धान का उठाव कर चावल सौंपा जाना था। लेकिन यहां मिलर ने मात्र 1900 एमटी धान का मिलिंग किया, जो मिलिंग क्षमता का मात्र 6.6 प्रतिशत चावल मिलिंग रहा है। इस प्रकरण में वसूली के साथ आपराधिक प्रकरण भी दर्ज हो सकता था, लेकिन अब तक मामला नोटिस तक अटका पड़ा है।
भोपाल रिपोर्ट भेजकर विभाग ने परिवहनकर्ता के खिलाफ कार्रवाई में खड़े किए हाथ
15 जनवरी को अन्नापूर्णा वेयर हाऊस कोतमा में परिवहनकर्ता ब्रिजेश पांड्या की तीन ट्रके चावल लोड करने पहुंची थी। इसमें ट्रक क्रमांक एमपी 18 जीए 1075, एमपी 17 एचएच 0445 व सीजी 12 एस 0929 में वेयर हाऊस केन्द्र प्रभारी ने चावल लोड कराया था। तीनों ट्रक में लगभग ९०० क्विंटल चावल लोड किए गए थे। तीनों वाहन शहडोल जिले के ब्यौहारी क्षेत्र में अनुबंध के तहत द्वार प्रदाय योजना में लगे हुए थे। जिसमें नियमानुसार अनुबंध के अनुसार ये वाहन कहीं बाहर नहीं जा सकते। इसकी वीडियो भी वायरल हुई। 13 जनवरी को परिवहन ठेकेदार का कोतमा वेयर हाउस से डिंडौरी के लिए धान भेजने का ठेका समाप्त हो गया था। बावजूद 15 जनवरी को तीन ट्रक वेयर हाउस में पहुंचे थे। इसकी सूचना नान प्रबंधक एवं डिप्टी कलेक्टर को मिली, जिस पर फूड निरीक्षक को जांच के लिए भेजा, अधिकारियों के पहुंचने पर तीनों ट्रक खाली मिले। जिसमें ट्रांसपोर्टर, केन्द्र प्रभारी और वेयरहाउस प्रबंधक कोतमा को नोटिस जारी किया गया था। इस पर विभागीय स्तर की जांच पड़ताल में वाहनों के बिना अनुमति वेयरहाउस और वीडियों के अनुसार चावल लोडिंग-अनलोडिंग पाया गया। लेकिन इनकी भी रिपोर्ट भोपाल भेजकर विभाग ने कार्रवाई से हाथ खड़ा कर दिया है।
-------------------------------------------------
Notice on low milling here, silence on stealth loading-unloading of 90
यहां कम मिलिंग पर नोटिस, वेयरहाउस से 900 क्विंटल चावल की चुपके से हो रही लोडिंग-अनलोडिंग पर खामोशी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एकनाथ शिंदे ने कहा- यह बालासाहेब के हिंदुत्व और आनंद दिघे के विचारों की जीत हैMaharashtra Political Crisis: शिंदे खेमा काफी ताकतवर, उद्धव ठाकरे के लिए मुश्किल होगा दोबारा शिवसेना को खड़ा करनासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.