पशु चिकित्सक के खाते से 1.95 लाख राशि निकालने वाले दम्पत्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कोरोना का बहाना बनाकर दम्पत्ति ने पशु चिकित्सक के कमरे में रहने के दौरान रची थी साजिश

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 23 Nov 2020, 11:30 AM IST

अनूपपुर। राजेन्द्रग्राम में पशु चिकित्सक के रूप में पदस्थ डॉ. अशोक गहरवार के खाते से गूगल पे के माध्यम से १.९५ लाख की राशि निकासी के मामले में पुलिस ने दम्पत्ति को हरदा से गिरफ्तार किया है। दोनों पति-पत्नी पुनीत गुप्ता और पत्नी अंजलि कुशवाहा झांसी भागने के फिराक में थे। रविवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों को न्यायलय में पेश किया है। बताया जाता है कि दोनों पति-पत्नी ने कोरोना संक्रमण के दौरान बाहर नहीं जाने का बहाना बनाते हुए पुनीत गुप्ता और उसकी पत्नी अंजलि कुशवाहा ने अपनी छोटी बच्ची के साथ चिकित्सक के कोहका स्थित स्कूल के मकान में आश्रय मांगा था। जहां चिकित्सक ने छोटी बच्ची को देखकर रहने की अनुमति दे दी थी। लेकिन बाद में दोनों पति-पत्नी ने चिकित्सक के मोबाइल और एटीएम से लाखों की राशि उड़ा डाली। थाना प्रभारी खेम सिंह पेंद्रो ने बताया कि डॉ. अशोक गहरवार तकनीशियन के पद पर नियुक्त है। 1 अगस्त को पुनीत और उसकी पत्नी अपनी छोटी सी बच्ची को लेकर गहरवार के कमरे आए और बोले कि हमे कुछ दिन रहना है कोरोना के कारण हम लोग काम करने नहीं जा पा रहे है। जब जाने की व्यवस्था हो जाएगी तो हम लोग यहां से चले जाएंगे। अंजलि कुशवाहा राजेन्द्रग्राम की रहने वाली है जबकि उसका पति सिंहपुर रोड शहडोल का। छोटी सी बच्ची को देखकर रहने की अनुमति दे दी। करीब नौ दिन उनके मकान में दोनों पति पत्नी रहे। इसी बीच अंजलि कुशवाहा द्वारा उनसे उनका मोबाइल बात करने के बहाने मांगा और गहरवार के पर्स से उनका एटीएम कार्ड एवं बैग से पासबुक निकालकर पूरा खेल खेला। उनके मोबाइल से खाते से लिंक सिम को भी निकाल पुरानी सिम को डाल दिया। बाद में दोनों दम्पत्ति ने गूगल पे के माध्यम से गहरवार के खाते से 2 अगस्त से १२ अगस्त के बीच १.९५ लाख की राशि निकाल ली। पुलिस ने आरोपियों के पास एटीएम कार्ड, एक एलसीडी व म्यूजिक सिस्टम को भी बरामद किया है।
--------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned