नगरपालिका की वाहनों का सडक़ पर कब्जा, वाहन चालक बन रहे सडक़ हादसे का शिकार

आड़ी तिरछे वाहनों के खड़ा किए जाने पर नपा सहित प्रशासनिक अधिकारियों की अनदेखी

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 04 Apr 2019, 08:00 AM IST

अनूपपुर। नगर की अतिक्रमण को हटाने वाली संस्था नगरपालिका अनूपपुर ने अब अपने ही वाहनों को सार्वजनिक मार्गो पर खड़ा कर सडक़ पर कब्जा जमा लिया है। रोजाना सडक़ के दोनों छोरों पर खड़ी होने वाली वाहनों की कतार में नगर का मुख्य मार्ग अब सकरी बन गई है। जहां फायरबिग्रेड जैसी भारी वाहन के साथ जर्जर कबाड़ पानी टंकी, रोजाना पानी आपूर्ति के उपयोग में लाए जाने वाली पानी टैंकर तथा ट्रेक्टर तथा कचरा परिवहन ट्रैक्टर वाहन औने-पौने रूप में खड़े रहते हैं। इन वाहनों बीच बनने वाली सकरी मार्ग से एक बार एक ही वाहन प्रवेश या बाहर निकल सकती है। जहां चालक की थोड़ी सी लापरवाही में साईड से गुजर रहे पैदल यात्री कभी भी हादसे का कारण बन सकती है। बावजूद नगरपालिका अपनी वाहनों को सडक़ से हटाने लापरवाह बनी हुई है। यहीं नहीं वहां से गुजरने वाले प्रशासनिक अधिकारियों को भी इस अव्यवस्था पर ध्यान नहीं जा रहा है। बताया जाता है कि इससे पूर्व भी वाहनों की बेतरतीब खड़े किए जाने से दर्जनों बाइक सवार और पैदल यात्री घायल हो चुके हैं। जिसकी शिकायत नपा से किए जाने पर नगरीय प्रशासन ने वाहनों को अपने परिसर में खड़ा किए जाने के साथ सडक़ पर खड़ी जर्जर वाहनों को हटा दिया था। लेकिन अब पुन: स्थिति पूर्व की भांति बन गई है। नगरवासियों का कहना है कि कोतवाली चौराहा से शासकीय कन्या स्कूल परिसर तक १८ फीट चौड़ी सडक़ की बजाय ८ फीट सकरी सडक़ ही नजर आती है। शेष दोनों छोरों पर नगरपालिका और थाना द्वारा जब्त किए गए दुर्घटनाग्रस्त वाहनों का कब्जा रहता है।

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned