मोबाइल और रजिस्ट्रेशन की जानकारी के अभाव में ग्रामीण युवा टीकाकरण से हो रहे वंचित

पंचायत स्तर पर नहीं हेल्प डेस्क की सुविधा, स्पॉट ऑनलाइन पंजीयन हैं बंद

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 20 May 2021, 12:15 PM IST

अनूपपुर। जिले में कोरोना महामारी से बचाव में वृद्धजनों के बाद युवाओं के लिए ५ मई से आरम्भ हुए टीकाकरण और ग्रामीण क्षेत्रों में महामारी बढ़ते स्वरूप को देखते हुए अब स्वास्थ्य विभाग अमला ग्रामीण क्षेत्रों की ओर रूख किया है। जहां जिले के चारो विकाखंड स्तर पर टीकाकरण सेंटर बनाते हुए ग्रामीण युवाओं को भी टीकाकरण से जोडऩे का प्रयास किया है। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग द्वारा १९ मई को जिले के १० स्थानों पर ११ बूथों पर टीकाकरण आरम्भ किए गए हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों की ओर बढ़ाए गए कदम के बाद भी लाखों ग्रामीण युवा टीकाकरण अभियान से काफी दूर हैं। सुदूर ग्रामीण अचंलों में आज भी हजारो परिवार बिना मोबाइल के जीवन यापन कर रहे हैं। और मोबाइल के माध्यम से टीकाकरण के लिए होने वाले रजिस्ट्रेशन की जानकारी के अभाव है। ऐसे में ग्रामीण युवा जानकारी के अभाव में टीकाकरण के लिए आगे नहंी आ रहे हैं। जबकि इससे पूर्व शासन ने ४५ से ५९ और ६० से अधिक आयु के नागरिकों के लिए मोबाइल एप्प के साथ साथ ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन जैसी भी सुविधा भी उपलब्ध कराई थी। जिसके कारण जो व्यक्ति मोबाइल एप्प के माध्यम से रजिस्टे्रशन में असमर्थ होते थे, वे सीधे टीकाकरण सेंटर पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराते हुए टीका लगवाते थे। लेकिन शासन की ओर से १८ से ४४ वर्ष आयु के नागरिकों के लिए मोबाइल के माध्यम से कोविन, आरोग्य सेतू और पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था बनाई है। जिसमें एप्प पर उपलब्ध जानकारियों को पूरी तरह से भरने के उपरांत ही रजिस्ट्रेशन और सेड्यूल सम्भव हो पाता है। लेकिन ग्रामीण युवाओं को इनकी प्रक्रिया की जानकारी का अभाव है। इस सम्बंध में न तो स्वास्थ्य विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचार प्रसार किया गया है और ना ही पंचायत स्तर पर कोई मदद के लिए टीम गठित की गई है। जबकि जिले में ३ लाख ४१ हजार से अधिक युवाओं का टीकाकरण किया जाना प्रस्तावित है।
बॉक्स: पंचायत स्तर पर नहीं जानकारी की सुविधा
युवाओं के लिए होने वाले टीकाकरण में मोबाइल पर निर्धारित समय में ही रजिस्ट्रेशन और सेड्यूल किए जाने पर सम्बंधित बेनेफेशरी आगामी तिथि के लिए टीकाकरण करवा सकता है। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में इसकी जानकारी नहीं होने के कारण अधिकांश युवा इसे सेड्यूल नहीं कर पाते। सेंटर पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा बंद होने के कारण मोबाइल ही एक मात्र विकल्प हैं। अगर पंचायत स्तर पर हेल्प डेस्क बनाई जाए, और ऐसे व्यक्तियों जिनके पास मोबाइल नहीं हो या जानकारी का अभाव हो पंचायत हेल्प डेस्क से माध्यम से अपना रजिस्ट्रेशन और सेड्यूल कराकर टीका पा सकते हैं। लेकिन प्रशासनिक स्तर पर ऐसी व्यवस्था नहीं बनाई गई है।
बॉक्स: अब तक कहां कितने टीकाकरण
बेनेफेशरी लक्ष्य प्रथम डोज प्रतिशत द्वितीय डोज प्रतिशत
हेल्थकेयर वर्कर ५०५६ ४२१८ ८३.०० ३०५६ ७२.००
फ्रंटलाइन वर्कर २८७९ २४५९ ८५.०० १६३० ६६.००
१८ से ४४ वर्ष ३४१४३२ १६५५ ०.० - -
४५-५९ वर्ष १९३०५३ ३१०४० १६.०० ३०१९ १०.००
६० प्लस ५८१०० २२६३४ ३९.०० २६७८ १२.००
वर्सन:
जिले में टीकाकरण के लिए २७ सेंटर बनाए गए हैं। इनमें युवाओं के लिए १० स्थानों पर ११ बूथ पर टीकाकरण किया जा रहा है। युवाओं के लिए मोबाइल एप्प के माध्यम से ही रजिस्ट्रेशन की सुविधा हैं। ऑन स्पॉट बंद हैं।
डॉ. एसबी चौधरी, जिला टीकाकरण अधिकारी अनूपपुर।
--------------------------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned