मजदूरी भुगतान नहीं होने पर सरपंच व सचिव को मिली फटकार

मजदूरी भुगतान नहीं होने पर सरपंच व सचिव को मिली फटकार

brijesh sirmour | Publish: Jan, 13 2018 05:48:28 PM (IST) | Updated: Jan, 13 2018 05:48:29 PM (IST) Anuppur, Madhya Pradesh, India

ग्रामीणों ने की शिकायत

अनूपपुर/वेंकटनगर. जैतहरी जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत भेलमा में पिछले तीन वर्ष पूर्व कपिलधारा कूप निर्माण की मजदूरी का भुगतान सरपंच व सचिव द्वारा नहीं किए जाने तथा इस सबंध में ग्रामीणों द्वारा की गई शिकायत पर जपं सीईओ ने सचिव और सरंपच को जमकर फटकार लगाई। शुक्रवार १२ जनवरी को जैतहरी जपं सीईओ संतोष वाजपेयी द्वारा ग्राम पंचायत भेलमा का औचक निरीक्षण किया गया, जहां निरीक्षण के दौरान मामले में लापारवाही सामने आई। जिसपर ग्राम पंचायत के सरपंच व सचिव को फटकार लगाते हुए तत्काल मजदूरों के मजदूरी भुगतान के निर्देश दिए। वही ग्रामीणों ने आरोप लगाया किया सचिव के द्वारा बिना मस्टर रोल के ही मजूदरी का भुगतान कर फर्जी बिल लगाकर कर लिया गया। वही एक कपिलधारा कूप के एक हितग्राही मनोरथ पिता रघुवीर जिसकी मौत 2011 में हो चुकी है, उसके नाम पर भी फर्जी बिल लगाकर 86 हजार रूपए खर्च किए जाने तथा अभीतक आधा कुंए का निर्माण होने की जानकारी दी। सीईओ ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन दिया।
गर्मी से पूर्व जलसंकट क्षेत्रों की समस्याओं का होगा निराकरण
अनूपपुर. ग्रीष्मकाल से पूर्व जल संकट को दृष्टिगत रख जिला प्रशासन जिले के सभी क्षेत्रों में जल आपूर्ति निर्वाध बनाए रखने के लिए अभी व्यवस्थाओं को बनाने अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं। जिसमें कलेक्टर की अध्यक्षता में जिले के पेयजल स्त्रोतों की कार्यवार समीक्षा बैठक आयोजित कर जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री तथा विद्युत मंडल के कार्यपालन यंत्री सहित लोक स्वास्थ्य यंात्रिकी विभाग के सहायक यंत्री, उपयंत्री को अभी से सभी आवश्यक व्यवस्थाएं बनाने के निर्देश दिए। बिजली बिल के अभाव में जिन नल-जल योजनाओं की लाईन काट दी गई है, उन्हें तत्काल जुड़वाए जाने विद्युत मंडल को निर्देश भी दिए। वहीं एसडीएम को जनपद स्तरीय बैठक कर ग्रामवार जल आपूर्ति व्यवस्था का आंकलन करने तथा बिगड़े हैंडपंपों व नल-जल योजनाओं की समीक्षा कर उसके संचालन के निर्देश दिए। कलेक्टर का कहना था कि गर्मी के दिनों में जल अभाव हो, उसके पूर्व संकट का समाधान अभी से कर लिया जाए।
वहीं पीएचई के अधिकारियों को आवश्यक कार्यों के इस्टीमेट जिपं कार्यालय में प्रस्तुत करने को कहा। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मैदानी अधिकारियों ने सुझाव रखा कि हैंडपंप एवं नल-जल योजना के सुधार कार्य के लिए जनपदवार मैंटनेंस के लिए पिकअप वाहन तथा 4 श्रमिकों की व्यवस्था जिला स्तर से कर दी जाए।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned