scriptSchool building could not be built even in two years, classes being co | दो वर्ष में भी नहीं बन पाया स्कूल भवन, जर्जर भवन में संचालित हो रही कक्षाएं | Patrika News

दो वर्ष में भी नहीं बन पाया स्कूल भवन, जर्जर भवन में संचालित हो रही कक्षाएं

अध्ययनरत 519 छात्राओं पर मंडरा रहा खतरा, निर्माण कार्य से बेसुध अधिकारी

अनूपपुर

Published: December 18, 2021 12:23:36 pm

अनूपपुर। बिजुरी नगर में दो साल पूर्व से नवीन कन्या हायर सेकेंडरी विद्यालय भवन का कार्य ठेकेदार द्वारा समय पर पूर्ण नहीं किए जाने से जर्जर भवन में कक्षाओं का संचालन करने की विवशता बनी हुई है। बदहाल भवन की छत के नीचे पढ़ रही ५१९ छात्राओं पर खतरों का बादल मंडरा रहा है। लेकिन दूसरी ओर विभागीय जिम्मेदार अधिकारी बेसुध बने हुए हैं। बताया जाता है कि यहां दो वर्ष पूर्व नवीन स्कूल भवन का निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया था जो कि अभी तक पूर्ण नहीं हो सका है। इससे बच्चों के साथ स्कूल प्रबंधन को भी परेशानियों के बीच कक्षाएं संचालित करनी पड़ रही है। बताया जाता है कि बिजुरी नगर में वर्तमान में कन्या हायर सेकेंडरी भवन जो जर्जर अवस्था में है। जिसे देखते हुए विभाग द्वारा 3 नवंबर 2019 को नए विद्यालय भवन निर्माण का शिलान्यास किया गया था। नवीन भवन बिजुरी थाने के समीप ही निर्माणाधीन है, जिसका कार्य अब तक ठेकेदार के द्वारा पूर्ण नहीं किए जाने तथा विद्यालय भवन विभाग को हस्तांतरित नहीं होने की वजह से जर्जर भवन में ही कक्षाएं संचालित की जा रही है।
बॉक्स: १.73 करोड़ से बन रहा भवन, बिजली फीटिंग सहित अन्य कार्य अधूरे
नवीन हायर सेकेंडरी भवन का निर्माण लोक निर्माण विभाग के द्वारा ठेकेदार के माध्यम से एक करोड़ 73 लाख रुपए की लागत से किया जा रहा है। भवन तो बनकर तैयार है, लेकिन बिजली फिटिंग सहित अन्य छोटे-मोटे कार्य अभी भी अधूरे हैं। 3 नवंबर 2019 को इस कार्य का शिलान्यास किया गया था जिसको 2 वर्ष बीत चुके हैं। जहां ठेकेदार के द्वारा अब तक कार्य पूर्ण कर भवन विभाग को हस्तांतरित नहीं किया गया है। बताया जाता है कि लगभग दो दशक पुराने कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल भवन जहां पर वर्तमान में कक्षा 6 से लेकर 12 तक छात्राएं अध्ययनरत है। यहां पर कुल 13 कमरो में 519 छात्राएं अध्ययनरत हैं। जिनके 6 कमरे पूरी तरह से जर्जर हो चुके हैं। कई क्षमता वाली कमरों में अधिक छात्राओं को बैठाकर पढ़ाने की मजबूरी बनी हुई है।
--------------------------------------------
School building could not be built even in two years, classes being co
दो वर्ष में भी नहीं बन पाया स्कूल भवन, जर्जर भवन में संचालित हो रही कक्षाएं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.