अमरकंटक नगरी में लगे शिव व नर्मदे हर के जयकारे, श्रद्धालुओं ने शिव का किया जलाभिषेक

अमरकंटक नगरी में लगे शिव व नर्मदे हर के जयकारे, श्रद्धालुओं ने शिव का किया जलाभिषेक

Rajan Kumar Gupta | Publish: Feb, 15 2018 07:58:09 PM (IST) Anuppur, Madhya Pradesh, India

अमरकंटक नगरी में लगे शिव व नर्मदे हर के जयकारे, श्रद्धालुओं ने शिव का किया जलाभिषेक

अमरकंटक नगरी में लगे शिव व नर्मदे हर के जयकारे, श्रद्धालुओं ने शिव का किया जलाभिषेक
महाशिवरात्रि पर शिवलहरा सहित अन्य मंदिरों में जल चढ़ाने उमड़े भक्त, जगह जगह आयोजित हुआ मेला
अनूपपुर/अमरकंटक। फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी के मौके पर १४ फरवरी को जिलेभर में हर्षोउल्लास के साथ महाशिवरात्रि पर्व मनाया गया। जिलेभर के शिवालयों में सुबह से ही भक्तों ने भगवान शिव-पार्वती की विशेष पूजा अर्चना कर प्रसाद के भोग लगाए। इस मौके पर कुछ स्थानों पर विशेष भंडारे के साथ मेले का भी आयोजन किया गया। जबकि अमरकंटक के मां नर्मदा उद्गम कुंड में हजारों शिवभक्तों ने डुबकी लगाकर ‘हर हर महादेव’ की जयघोष से सारा वातावरण गुंजायमान कर दिया। महाशिवरात्रि के अवसर पर ८ दिवसीय मेले के प्रथम दिन अमरकंटक नगरी शिव और नर्मदे हर की जयघोष से धर्मामयी हो गई, मानो महाशिवरात्रि पर साक्षात शिव अमरकंटक में अवतरित हुए हंै तथा उनकी दर्शन पूरी दुनिया उमड़ पड़ी। हालांकि पिछले तीन दिनों से बारिश के लगातार दौर बने रहने के कारण बुधवार को लोगां की भीड़ अधिक नहीं पहुंच सकी। लेकिन बुधवार की दोपहर धूप निकलने पर दूर-दराज के क्षेत्रों से हजारों की तादाद में भक्ताओं का जत्था हर हर महादेव शब्दों के साथ अमरकंटक पहुंचा रहा है। वेदों के अनुसार महाशिवरात्रि के मौके पर शिव की पूजा-अर्चना करने से मानव को मोक्ष की प्राप्ती होती है। मान्यता यह भी है कि सृष्टि का प्रारंभ इसी दिन से हुआ था। पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन सृष्टि का आरम्भ अग्निलिंग जो महादेव का विशालकाय स्वरूप है से उदय हुआ था। जबकि अन्य मान्यताओं में इसी दिन भगवान शिव का विवाह माता पार्वती के साथ हुआ था, की परम्पराओं में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी अमरकंटक नर्मदा सरोबर में हजारों श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाकर माता नर्मदा एवं शिव को जल अर्पण कर उनकी पूजा अर्चना की और सुख-समृद्धि के साथ अपने परिजनों की मनोकामना पूरी होने का वर मांगा। इस मौके पर भक्तों के आने तथा स्नान के बाद चल चढ़ाने का सिलसिला देर शाम तक चलता रहा। बताया जाता है कि अमरकंटक में महाशिवरात्रि के मौके पर बुधवार को लगभग २० हजार से अधिक शिवभक्तों ने मां नर्मदा उद्गम कुंड में स्नानकर पूजा अर्चना की। वहीं अमरकंटक मेले की व्यवस्थाओं में प्रभारी कलेक्टर जिपं सीईओ केवीएस चौधरी, पुलिस अधीक्षक सुशील जैन, एएसपी वैष्णव शर्मा ने मेले में विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया। और सुरक्षा व्यवस्थाओं सहित पार्किंग व्यवस्थाओं को बेहतर बनाए रखने के निर्देश दिए। जबकि अमरकंटक में प्रशासन द्वारा भीड़ एवं भगदड़ से बचाने के लिए सीसीटीवी कैमरे के साथ वॉच टॉवर का सहारा लिया गया। महिलाओं के साथ आम श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा ३०० पुलिस जवानों के साथ महिला दस्ते को भी तैनात किया गया है।
महाशिवरात्रि पर्व के मौके पर जिला मुख्यालय के शंकर मंदिर , रामजानकी मंदिर, तिपानी नदी स्थित शंकर मंदिर, बुढी माई मढिया मंदिर, ठाकुरबाबा धाम मंदिर सहित अन्य मंदिरों में सुबह से ही भक्तों की कतार लगी रही। जहां शिवभक्तों ने सोन, तिपान, व चंदास नदी में स्नानकर मंदिरों में जल चढ़ाकर पूजा अर्चना की। कई मंदिरों पर महाशिवरात्रि के अवसर पर भंडारा कार्यक्रम भी आयोजित हुआ।
----------------

Ad Block is Banned