scriptSir Warehouse built over the dam, now the villagers troubled by the pr | साहब! बांध के उपर बना दिया वेयरहाउस, अब पानी की समस्या से परेशान ग्रामीण | Patrika News

साहब! बांध के उपर बना दिया वेयरहाउस, अब पानी की समस्या से परेशान ग्रामीण

पुत्र की मृत्यु के सात माह बाद भी नहीं मिली अनुकंपा नियुक्ति व क्लेम, 18 आवेदकों का तत्काल निराकरण

अनूपपुर

Published: January 05, 2022 10:25:54 pm

अनूपपुर। साहब! हम ग्राम पंचायत दैखल गांव के बांकाटोला गांव निवासी है। यहां बांकाटोला में झिटकुनाला पर बांध बंधा हुआ है। लेकिन अब यहां सहकारिता विभाग द्वारा वेयरहाउस का निर्माण कराया गया है। जिसमें वेयरहाउस बनने से बांध का डूब क्षेत्र की जमीन के रकबे को विभाग ने अपने कब्जे में ले लिया है और तार की रूधाई कर दी गई है। जबकि पुराना बांध वर्षो पूर्व फूटा पड़ा है आज भी उसकी मरम्मती नहीं गई है, इसके कारण बांध में पानी नहीं है। इससे ग्रामवासियों को निस्तार के लिए पानी की समस्या से रूबरू होना पड़ रहा है। यह स्थिति एकाध महीनें नहीं बल्कि सालों से बन रही है। पानी की जरूरतों को पूरा कराया जाए। जिस पर जिपं सीईओ ने जल्द ही मामले में जनपद पंचायत सीईओ से जानकारी लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। वहीं मेडियारास गांव निवासी शिव कुमार पटेल ने अपने पुत्र स्व. शंकरलाल पटेल की मृृत्यु होने के उपरांत अब तक अनुकंपा नियुक्ति एवं क्लेम नहीं मिलने की शिकायत दर्ज कराई है। साथ ही आदिवासी विभाग कार्यालय के अधिकारियों पर अब तक इस सम्बंध में कोई जानकारी नहीं देने का आरोप लगाया है। पीडि़त परिवार ने बताया कि स्व. शंकरलाल पटेल की मृत्यु जिला अस्पताल अनूपपुर में १२ मई को हो गई थी। मेरी बहु को मिलने वाला क्लेम एवं पोते को मिलने वाली अनुकंपा नियुक्ति की कार्रवाई अभी तक नहीं हुई है। जबकि प्रार्थी की बहु एवं पोते ने संपूर्ण दस्तावेज ऑनलाइन एवं आफलाइन जमा कर दिया है। लेकिन विभाग अब तक कोई जानकारी नहीं दे रही है। परिवार को कोविड-१९ से मिलने वाली ५ लाख की राशि दिलाने की कृपा करें। इस पर जिपं सीईओ ने तत्काल जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश विभाग को दिए हैं।
बॉक्स: 30 आवेदनों में से 18 का मौके पर हुआ निराकरण
जनसुनवाई में अपनी समस्याएं लेकर आए 30 लोगों के 18 प्रकरणों का मौके पर ही निराकरण संबंधित विभागों के द्वारा किया गया। जबकि 12 प्रकरणों को सीएम हेल्पलाईन पोर्टल पर दर्ज कर विभागीय अधिकारियों द्वारा जल्द करने निर्देशित किया गया है। इनमेंं ग्राम चिल्हारी के लाला प्रसाद रौतेल ने ठेकेदार द्वारा भवन निर्माण कार्य कराने की मजदूरी राशि दिलाने, ग्राम पंचायत देवरी के ग्रामवासियों ने हैंडपंप लगाए जाने, लालजी सोनी ने संबल कार्ड बनाए जाने, पीएम ग्रामीण सडक़ इकाई अनूपपुर में स्वीपर का कार्य करने वाली चुनकी बाई द्वारा सेवा से पृथक किए जाने संबंधी आवेदन सहित अन्य आवेदन आए।
---------------------------------------------------
Sir Warehouse built over the dam, now the villagers troubled by the pr
साहब! बांध के उपर बना दिया वेयरहाउस, अब पानी की समस्या से परेशान ग्रामीण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Sharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावSchool Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीSatna: कलेक्टर की क्लास में मिलेगी UPSC की निःशुल्क कोचिंगकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशDwane Bravo ने 'पुष्पा' गाने पर दी डेविड वॉर्नर को टक्कर, खुद को कमेंट करने से रोक नहीं पाए अल्लू अर्जुन

बड़ी खबरें

RRB-NTPC Result : गुस्साए छात्रों का बवाल जारी, गया में पैसेंजर ट्रेन में आग लगाई और स्टेशन पर किया पथरावRepublic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवानहीं चाहिए अवार्ड! इन्होंने ठुकरा दिया पद्म सम्मान, जानिए क्या है वजहजिनका नाम सुनते ही थर-थर कांपते थे आतंकी, जानें कौन थे शहीद ASI बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्ररेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितUP Assembly Elections 2022 : आरपीएन सिंह-जितिन प्रसाद पर जमकर बरसे अजय लल्लू, कहा ऐशोआराम करने वालों की कांग्रेस को जरूरत नहींIPL 2022: शिखर धवन को खरीद सकती हैं ये 3 टीमें, मिल सकते हैं करोड़ों रुपएएक गांव ऐसा भी: यहां इंसानियत ही सबसे बड़ा धर्म
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.