सोशल प्राइड: सिकलसेल से पीडि़त छात्रा को रक्तदान कर बचाई जान, 40 किलोमीटर दूरी किया तय

सोशल मीडिया से जानकारी मिलने पर जिला अस्पताल पहुंचे कनिष्ठ अभियंता

By: Rajan Kumar Gupta

Published: 25 Feb 2021, 10:24 AM IST

अनूपपुर। जिला अस्पताल अनूपपुर में सिकलसेल से जूझ रही छात्रा को रक्त देने ४0 किलोमीटर दूरी तय कर विद्युत वितरण केंद्र कोतमा में पदस्थ कनिष्ठ अभियंता विजय कुमार धुर्वे ने मानवता की मिसाल पेश की है। छात्रा को रक्त की आवश्यकता की जानकारी कनिष्ठ अभियंता को सोशल मीडिया के माध्यम से मिली। जिसके बाद वह लम्बी दूरी का सफर तय कर अस्पताल पहुंचे और रक्तदान कर बच्ची को चढ़वाया। बताया जाता है कि बिजुरी निवासी 21 वर्षीय छात्रा सिकल सेल की बीमारी से जूझ रही है। २३ फरवरी को अचानक तबीयत बिगडऩे पर जिला अस्पताल में उपचार के लिए दाखिल कराया गया। लेकिन यहां चिकित्सकों के द्वारा ब्लड बैंक में बी पॉजिटिव रक्त समूह नहीं होने की जानकारी दी गई। चिकित्सकों ने रक्त की व्यवस्था परिजनों से किए जाने की अपील की। जिसके पश्चात छात्रा के बड़े भाई के द्वारा अपने दोस्तों से इसकी जानकारी बतलाई गई और सोशल मीडिया में संवाद डालकर रक्त की आवश्यकता होने संबंधी जानकारी लोगों से सांझा किया गया। जिसे देखने के बाद विद्युत वितरण केंद्र कोतमा में पदस्थ कनिष्ठ अभियंता विजय कुमार धुर्वे ने ४0 किलोमीटर दूर अनूपपुर जिला अस्पताल पहुंच छात्रा को बचाने के लिए ना सिर्फ रक्तदान किया बल्कि रक्तदान के बाद उसके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए छात्रा से मिले भी। इस बारे में रक्तदाता कनिष्ठ अभियंता विजय कुमार धुर्वे ने बतलाया कि इससे पहले भी वह तीन बार रक्तदान कर चुके थे। और हमेशा कार्य की व्यस्तता के बावजूद यह प्रयास रहता है कि किसी के जीवन को बचाने के लिए यदि आवश्यकता पड़े तो रक्तदान करने में कोई झिझक नहीं की जाए।
-------------------------------------

Rajan Kumar Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned