scriptState GST Anti Evasion Bureau team raids stone crusher plant, one crus | स्टोन क्रेशर प्लांट पर स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो टीम का छापा, एक क्रेशर सील | Patrika News

स्टोन क्रेशर प्लांट पर स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो टीम का छापा, एक क्रेशर सील

50 लाख से अधिक का टैक्स चोरी के अनुमान , 8 माह से नहीं भरा रिर्टन, तीन वर्ष के दस्तावेजों की जांच

अनूपपुर

Published: November 18, 2021 09:55:23 am

अनूपपुर। पुष्पराजगढ़ विकासखंड में छत्तीसगढ़ के व्यवसायी जयप्रकाश शिवदासानी की सरस्वती माइनिंग कंपनी की ३ स्टोन क्रेशर प्लांट पर १७ नवम्बर की दोपहर स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो जबलपुर की २० सदस्यी टीम ने छापामार कार्रवाई की। असिस्टेंट कमिश्नर स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो जबलपुर प्रकाश सिंह बघेल के नेतृत्व में टीम के सदस्यों ने एक साथ तीनों स्थान पर दोपहर १२ बजे कार्रवाई की। जिसमें राजेन्द्रग्राम स्थित दो क्रेशर प्लांट और बड़ी तुम्मी निकट शहडोल स्थित क्रेशर प्लांट शामिल रहे। यहां विभागीय टीम द्वारा की जांच पड़ताल में क्रेशर सम्बंधित दस्तावेजों को जब्त करते हुए उनमें खनिज विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मिलान करते हुए गड़बड़ी पाई। जिसके बाद बसही स्थित स्टोन क्रेशर प्लांट को स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो टीम द्वारा सील कर दिया गया और दस्तावेजों को अपने कब्जे में लिया। हालंाकि स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो टीम द्वारा देर शाम तक कार्रवाई जारी रखी गई थी, जिसमें अधिकारी ने बताया कि यह कार्रवाई १८ नवम्बर को भी जारी रहेगी। स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो टीम के जांच अधिकारी असिस्टेंट कमिश्नर प्रकाश सिंह बघेल ने बताया कि यह रूटीन कार्य के तहत जांच पड़ताल करते हुए कार्रवाई की गई है। इसमें विभाग को शिकायत मिल रही थी कि सम्बंधित व्यवसायी द्वारा टर्न ओवर छिपाया जा रहा है, टैक्स की चोरी की जा रही है यहीं नहीं पिछले ८ माह से व्यवसायी द्वारा रिर्टन भी नहीं भरा गया है। जबकि व्यवसायी द्वारा स्टोन क्रेशर प्लांट से नियमित प्रोडक्शन जारी करते हुए स्टोन की बिक्री की जा रही है। असिस्टेंट कमिश्नर के अनुसार कंपनी द्वारा अनुमानित लगभग ५० लाख का टैक्स चुराया गया है, जिससे शासन को नुकसान हुआ है। यह आंकड़ा दस्तावेजों की जांच पड़ताल में और अधिक बढ़ भी सकता है, लेकिन फिलहाल अनुमानित ५० लाख की टैक्स चोरी की गई है।
बॉक्स: व्यापारी के प्रस्तुत दस्तावेजों के बाद होगी आगे की कार्रवाई
असिस्टेंट कमिश्नर के अनुसार प्लांट मप्र के पुष्पराजगढ़ में संचालित है, जबकि व्यवसायी छत्तीसगढ़ निवासी है, जिन्हें कार्रवाई में बुलाया गया था, लेकिन शाम तक नहीं पहुंचे हैं। व्यवसायी के आने और चाही गई जानकारी में प्रस्तुत दस्तावेजों के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। टीम द्वारा अब तक तीन साल के दस्तावेजों को खंगालते हुए फिलहाल कब्जे में लिया गया है। असिस्टेंट कमिश्नर के अनुसार कार्रवाई से पूर्व खनिज विभाग द्वारा लीज सम्बंधित जानकारी भी मांगी गई थी। विभाग के दस्तावेज सही पाए गए हैं।
वर्सन:
कंपनी द्वारा टर्न ओवर छिपाया जा रहा था, टैक्स की चोरी की जा रही थी, जिसमें रूटीन कार्य के तहत जांच कार्रवाई की गई है। गड़बड़ी पाया गया है, एक क्रेशर को सील करते हुए दस्तावेजों को जब्त किया गया है। व्यवसायी के प्रस्तुत दस्तावेजों के उपरांत आगे की कार्रवाई होगी।
प्रकाश सिंह बघेल, असिस्टेंट कमिश्नर स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो जबलपुर।
--------------------------------------------------
State GST Anti Evasion Bureau team raids stone crusher plant, one crus
स्टोन क्रेशर प्लांट पर स्टेट जीएसटी एंटी इवेजन ब्यूरो टीम का छापा, एक क्रेशर सील

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: आज होगी वीरता पुरस्कारों की घोषणा, गणतंत्र दिवस से पूर्व राजधानी बनी छावनीशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातभाजपा की नई लिस्ट में हो सकती है छंटनी की तैयारी, कट सकते हैं 80 विधायकों के टिकटDelhi: सीएम केजरीवाल का ऐलान, अब सरकारी दफ्तरों में नेताओं की जगह लगेंगी अंबेडकर और भगत सिंह की तस्वीरेंछत्तीसगढ़ में 24 घंटे में 19 मरीजों की मौत, जनवरी में ये आंकड़ा सबसे ज्यादा, इधर तेजी से बढ़ रही एक्टिव मरीजों की संख्याUttar Pradesh Assembly Elections 2022: शह और मात के खेल में डिजिटल घमासान, कौन कितने पानी मेंजूतों पर भी लगा दिया तिरंगा, अमेजन पर होगी एफआईआरRepublic Day 2022: जानिए इसका इतिहास, महत्व और रोचक तथ्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.