कोतमा में बढ़ी चोरी की वारदात, दो माह में दर्जनों चोरियां खुलासे एक भी नहीं

कोतमा में बढ़ी चोरी की वारदात, दो माह में दर्जनों चोरियां खुलासे एक भी नहीं

shivmangal singh | Publish: Sep, 03 2018 09:26:19 PM (IST) Anuppur, Madhya Pradesh, India

कोतमा में बढ़ी चोरी की वारदात, दो माह में दर्जनों चोरियां खुलासे एक भी नहीं

टीम कर रही जांच पड़ताल, शिकायतकर्ता हो रहे परेशान
कोतमा। जिले के मुख्य क्षेत्रों में शामिल कोतमा नगरीय क्षेत्र सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों में अब चोरी की वारदात ने लोगों को भयभीत कर दिया है। जहंा आए दिन चोरी की घटना तथा मामले में दर्ज शिकायत के बाद जांच की जुटी पुलिस आरोपियों तक नहीं पहुंच पा रही है। आलम है कि कोतमा थाना क्षेत्र में पिछले दो माह के दौरान दर्जनों बड़ी चोरी की घटनाएं सामने आई, लेकिन आश्चर्य इन चोरी की घटनाओं की जांच में पुलिस की खुफिया तंत्र फेल हो गई और पुलिस टीम आरोपी तो क्या संदेहियों तक को भी नहीं सूंध सके। जिसके कारण अब पुलिस की कार्यशैलियों पर पुन: सवालियां निशान लगने आरम्भ हो गए हैं। जानकारी के अनुसार 30 जुलाई की रात अज्ञात चोरों के द्वारा बुरहानपुर निवासी अनिल नामदेव के घर पर चोरों ने चोरी करते हुए खिडक़ी दरवाजे तक ले गए। जिसकी शिकायत कोतमा थाने पर दर्ज कराने पहुंचे अनिल नामदेव को पुलिस ने यह कहते हुए चलता कर दिया कि आप पहले घर पहुंचों हम आकर जांच करते हैं। अनिल नामदेव ने बताया कि मेरी शिकायत तक कोतमा थाने पर नहीं ली गई। बताया जाता है कि पिछले 2 माह में चोरों के द्वारा दर्जनों चोरियां की गई। इनमें कुछ दिनदहाड़े की वारदात सामने आई। इसमें 3 जुलाई लहसुई गांव में लगभग 1 लाख 50 हजार, १1 जुलाई लहसुई में लगभग 95000 की चोरी, 17 जुलाई बरगवां में 40 हजार, 23 जुलाई सिमरिया चौराहा में 15000 की चोरी, 29 जुलाई दर्री टोला में 20 हजार की चोरी, 3 अगस्त गोविंदा में 1.50 लाख की चोरी, 9 अगस्त बलियाबड़ी में 40 हजार की चोरी,15 अगस्त बनिया टोला वार्ड क्रमांक 7 में 80 हजार की चोरी, सुमित नामदेव के घर 90 हजार की चोरी, 28 अगस्त दर्री टोला में लगभग दो लाख की चोरी की घटना उदाहरण के रूप में आज भी सवाल खड़े किए हुए हैं।
वर्सन:
हमने जगह-जगह मुखबिर तैनात कर दिए हैं। जैसे ही मुखबिरों से कोई सूचना मिलती है उन संदेहियों को पकड़ पूछताछ की जा रही है। जल्द चोरी का खुलासा किया जाएगा।
एसएन प्रसाद, एसडीओपी कोतमा।

Ad Block is Banned