scriptThere is a shortage of doctors in this hospital, CMHO and medical offi | इस अस्पताल में चिकित्सकों की पड़ी कमी, सीएमएचओ व मेडिकल अधिकारी संभालेंगे ओपीडी की जिम्मेदारी | Patrika News

इस अस्पताल में चिकित्सकों की पड़ी कमी, सीएमएचओ व मेडिकल अधिकारी संभालेंगे ओपीडी की जिम्मेदारी

मरीजों का करेंगे इलाज, जिला अस्पताल में चिकित्सकों की कमी को देखते आदेश किया जारी

अनूपपुर

Published: May 09, 2022 11:05:11 am

अनूपपुर। जिले में चिकित्सकों की कमी से मरीजों का इलाज प्रभावित हो चला है। इसमें खासकर प्राथमिक सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों की हालत दयनीय बनी हुई है। यहां स्वास्थ्य केन्द्रों पर एकाध चिकित्सकों को पदस्थ कर पूरी स्वास्थ्य व्यवस्थाएं संभाली जा रही है। जिसके कारण गंभीर बीमारी और दुर्घटनाग्रस्त मरीजों को प्राथमिक इलाज के बाद तत्काली सीधे जिला अस्पताल रेफर कर दिया जा रहा है। इसका मुख्य कारण जिले में लम्बे समय से नए चिकित्सकों की भर्ती नहीं होने और कार्यरत चिकित्सकों की लगातार सेवानिवृत्ति होना बताया जा रहा है। जिसके कारण जिले की सबसे बड़ी अस्पताल जिला अस्पताल में भी अब चिकित्सकों व मेडिकल ऑफिसरों की कमी पड़ गई है। इसे देखते हुए अब सीएमएचओ कार्यालय से एक आदेश जारी किया गया है। जिसमें चिकित्सकों की कमी में मरीजों को हो रही परेशानी में सीएमएचओ सहित नोडल अधिकारी स्तर के चिकित्सक ओपीडी की जिम्मेदारी भी संभालेंगे। इसके लिए सीएमएचओ डॉ. एससी राय, जिला स्वास्थ्य अधिकारी ०१ डॉ. आरपी सोनी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी ०२ डॉ. आरपी वर्मा और जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसबी चौधरी के नाम शामिल किए गए हैं। वहीं सीएमएचओ ने सभी नामित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे ओपीडी के लिए निर्धारित समय पर ही उपस्थित होंगे और मरीजों का इलाज करेंगे। इसके अलावा रोजाना मरीजों की रजिस्टर रिपोर्ट तैयार करते हुए माह के अंत में वे सीएमएचओ कार्यालय में अपना रजिस्टर रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। सीएमएचओ डॉ. एससी राय ने बताया कि वर्तमान में मौसमी संक्रमण के कारण मरीजों की संख्या में लगातार बढोत्तरी हो रही है। पूर्व से ही चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे अस्पताल में कुछ चिकित्सक सेवानिवृत्त हुए हैं। जिसके कारण ऐसे चिकित्सकों के कार्य शेष अन्य चिकित्सकों के कंघों पर अधिक पड़ गया है। इसे देखते हुए सीएमएचओ सहित तीन अन्य चिकित्सकों को ओपीडी ड्यूटी के लिए लगाया गया है। इससे मरीजों व परिजनों को राहत मिलेगी।
बॉक्स: वर्षो से खाली विशेषज्ञों के पद, स्वीकृत 209 में कार्यरत मात्र 50
जिला अस्पताल सहित पूरे जिले में चिकित्सकों के 209 पद स्वीकृत हैं। इनमें सिर्फ 50 पदों पर ही चिकित्सक कार्यरत हैं। जिला अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों के 28 पद के विरुद्ध सिर्फ तीन कार्यरत हैं। जबकि मेडिकल ऑफिसर के 26 पदों में से 14 वर्षों से खाली पड़े हुए हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में विशेषज्ञों के पद कभी भी नहीं भरे गए हैं। मेडिकल ऑफिसर के 19 पद हैं, जिनमें से 7 खाली पड़े हुए हैं। वही एनएचएम के 85 मेडिकल ऑफिसर के पदों में से 71 पद वर्षों से रिक्त हैं। इसके अलावा अन्य जरूरतमंद पदों पर वर्षो से कोई प्रतिपूर्ति नहीं हो पाई है।
बॉक्स: जिला अस्पताल में मात्र १० चिकित्सक
चिकित्सकों की कमी का आलम यह है कि स्वयं जिला अस्पताल में दोपहर को एकाध चिकित्सकों के भरोसे ओपीडी जैसी व्यवस्थाओं को संभाला जा रहा है। वर्तमान में जिला अस्पताल में सिर्फ 10 चिकित्सक अपनी सेवाएं दे रहे हैं जिनमें ऑर्थोपेडिक, नेत्र विशेषज्ञ एवं महिला रोग विशेषज्ञ भी शामिल है। आपातकालीन व्यवस्था को छोड़ दिया जाए तो सिर्फ एक चिकित्सक ही इमरजेंसी ड्यूटी रूम में उपलब्ध रहते हैं। हालांकि जिला स्वास्थ्य प्रबंधक द्वारा इन की पूर्ति के लिए शासन को पत्राचार किए जाने की बात कही है। लेकिन इनके भी दो साल से अधिक बीत गए हैं।
बॉक्स: बिस्तर की कमी, बरामदे पर इलाज
हाल के दिनों में हुई बारिश के उपरांत सर्द-गर्म से उल्टी-दस्त, हीट स्टोक, सर्दी-खांसी के मरीजों की संख्या में बढोत्तरी हो गई है। जहां जिला अस्पताल में मरीजों के लिए बिस्तर की कमी पड़ गई है। बिस्तर के अभाव में मरीजों का इलाज अब बरामदे पर कराने की मजबूरी बन आई, क्योंकि नवीन जिला अस्पताल भवन निर्माणाधीन है।
वर्सन:
चिकित्सकों की कमी को देखते हुए मेरे साथ तीन अन्य मेडिकल अधिकारी ओपीडी में मरीजों का इलाज करेंगे। वर्तमान में मरीजों की संख्या बढ़ गई है। जिसके कारण बरामदे पर ही व्यवस्था बनाई गई है।
डॉ. एससी राय, सीएमएचओ अनूपपुर।
---------------------------------------------------
There is a shortage of doctors in this hospital, CMHO and medical offi
इस अस्पताल में चिकित्सकों की पड़ी कमी, सीएमएचओ व मेडिकल अधिकारी संभालेंगे ओपीडी की जिम्मेदारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

जाने-माने लेखक सलमान रुश्दी पर न्यूयॉर्क में जानलेवा हमला, चाकुओं से गोदकर किया घायलमनीष सिसोदिया का BJP पर निशाना, कहा - 'रेवड़ी बोलकर मजाक उड़ाने वाले चला रहे दोस्तवादी मॉडल'सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद बोले तेजस्वी यादव- 'नीतीश जी का हमसे हाथ मिलाना BJP के मुंह पर तमाचे की तरह''स्मोक वार्निंग' के कारण मालदीव जा रही 'गो फर्स्ट' की फ्लाइट की हुई कोयंबटूर में इमरजेंसी लैंडिंगHimachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफामाकपा विधायक ने दिया विवादित बयान, जम्मू-कश्मीर को बताया 'भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.