ये कैसा अंधविश्वासी जिसने ले ली महिला की जान

ये कैसा अंधविश्वासी जिसने ले ली महिला की जान

By: shivmangal singh

Published: 13 Mar 2018, 08:51 PM IST

सर्प डंस से पीडि़त महिला की झाड़ फूंक में गई जान, सर्पडंस के बाद महिला ने अनूपपुर जाने से कर दी थी मनाही
मृतिका पक्ष ने मौत पर जताया संदेह, अंत्येष्ठि को लेकर दोनों पक्षों में ठनी, मायका में मृतिका का हुआ अंतिम संस्कार
भालूमाड़ा। भालूमाड़ा वार्ड क्रमांक ११ में भोला सरदार के संचालित ईंट भट्ठे में लम्बे से समय से झोपड़ी बनाकर काम कर रही २२ वर्षीय नवविवाहिता सुमन साकेत पति विमलेश साकेत का ११ मार्च को जहरीले सर्प डंस तथा गुनिया के झांड फूंक के चक्कर में परिजनों की लापरवाही में मौत का शिकार हो गई। घटना ११ मार्च की दोपहर १ बजे की बताई जा रही है, जहां दोपहर के समय खाना पकाने झोपड़ी में प्रवेश के दौरान किसी जहरीले सर्प ने डंस लिया। महिला की चीख पर परिजनों ने तत्काल महिला के सर्पडंस स्थल को ब्लेड से चीरकर उपचार के लिए कोतमा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। लेकिन इसी दौरान महिला ने कुछ आराम महसूस करते हुए अनूपपुर जाने से मनाही कर दी। इस बात पर परिजनों ने सुमन को उपचार के बजाय झाड़-फूूंक के लिए आमाडॉर ले गए, जहां चमन चौधरी से झांड़-फूंक करने बाद उसे ढाई दिन तक कहीं नहीं ले जाने तथा नदी-नाला पार नहीं करने की हिदायत दे डाली। हालांकि इस दौरान सुमन साकेत ठीक बताई गई तथा कुछ खाना भी खाया। इसी दौरान महिला का पति अपने ८ माह के पुत्र को लेने गांव वापस आया तथा उसे लेकर आमाडॉर पहुंचा था कि परिजनों ने बताया कि सुमन की तबीयत फिर से खराब हो गई है जहां वहीं के एक डॉक्टर को दिखाने पर उसनेे उसे मृत घोषित कर दिया। परिवार के लोगों ने पसान नगर पालिका में सूचना देकर शव वाहन मंगाया और रात लगभग 11 बजे सुमन को लेकर वापस घर आए । वहीं सुमन की मौत पर १२ मायके पक्षवालों ने मौत पर आशंका जताते हुए शव को अपने घर मउगंज ले जाने की बात कही। जिसे लेकर दोनों पक्षों में द्वंद्वता हुई, जहां मृतिका पक्षवालों ने एकलौती पुत्री होने की बात कहते हुए अंत्येष्ठि ससुराल वालों द्वारा अपने तरीके से करने की बात कह शव मउगंज ले गए, जहां ससुराल पक्षवालों द्वारा अंतिम संस्कार किया गया।
वर्स:
युवती की मौत सांप काटने से बताया गया है। दोनों पक्षों के बयान लिए जाएंगे। पीएम रिपोर्ट से पता चल जाएगा जिसकी जांच की जाएगी, यदि सांप काटने से युवती की मौत हुई है तो आकस्मिक मृत्यु पर शासन की योजना अनुसार चार लाख की सहायता परिवार को दी जाएगी ।
जेपी साकेत, तहसीलदार अनूपपुर
------------------------------------------

shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned