scriptUnseen: Naljal scheme is closed for four years, villagers' thirst is q | अनदेखी: चार साल से नलजल योजना है बंद, हरिजनटोला में बावड़ी से ग्रामीणों की बुझ रही प्यास | Patrika News

अनदेखी: चार साल से नलजल योजना है बंद, हरिजनटोला में बावड़ी से ग्रामीणों की बुझ रही प्यास

दशकों से सडक़ का नहीं हुआ सुधार, अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ा साप्ताहिक बाजार

अनूपपुर

Published: February 27, 2022 10:12:18 pm

अनूपपुर। जिले में आर्थिक रूप से पिछड़े विकासखंड में शामिल पुष्पराजगढ़ का लेढऱा ग्राम पंचायत विकाखंड मुख्यालय राजेन्द्रग्राम से सटे पंचायत के बाद भी अव्यवस्थाओं का शिकार बना है। जहां ग्रामीणों को पानी की समस्या सहित सडक़ और घर की जरूरतों की पूर्ति में लगने वाला साप्ताहिक बाजार की अव्यवस्था ग्रामीणों की मुसीबत बन गई है। इसके लिए ग्रामीण ग्राम पंचायत जनप्रतिनिधियों के साथ विभागीय कार्यालयों का भी चक्कर लगा चुके हैं। लेकिन उनकी समस्याएं कम होने का नाम नहीं ले रही है। बताया जाता है कि लेढऱा ग्राम पंचायत २ हजार से अधिक की आबादी वाला ग्राम पंचायत है, जिसके हरिजनटोला में वर्ष २०१८ में नलजल योजना संचालित की गई थी। शुरूआती महीने में नलजल योजना का पानी घरों तक पहुंचा, लेकिन एक माह के बाद यह योजना बंद हो गया। जिसमें पिछले चार साल से यहां नलजल योजना शोपीस बनकर रह गई है। यहां के ग्रामीण अपने द्वारा पानी की समस्या से निजात में खोदे गए बावरी से जलापूर्ति करते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि बारिश के दिनों यह समस्या और भी विकट हो जाती। जबकि गर्मी के दिनों में यह बावरी भी सूखने की कगार पर पहुंच जाता है। एक हैंडपंप है, जो चुल्लू भर पानी देता है और गर्मी में सूख जाता है। वहीं पंचायत नलजल योजना को लेकर कोई जवाब तक नहीं देती है। जिसके कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
बॉक्स: दशकों से सडक़ का नहीं हुआ सुधार, धुर्रे में तब्दील पक्की सडक़
ग्रामीणों का कहना है कि ग्राम पंचायत से जुड़ी राजेन्द्रग्राम-लांघाटोल-सरई तक की सडक़ गड्ढों में तब्दील हो गई है। इस मार्ग पर पैदल चलने के लिए जगह तक नहीं है। बारिश में इन गड्ढों में पानी भरने से इस पर यातायात लगभग बंद हो जाता है। गड्ढे के कारण सिर्फ ट्रक या बड़ी वाहनें ही चल पा रही है। गांवों की सडक़ दशकों बाद भी सुधारी जा सकी है जो अब धूर्रे में तब्दील हो गई है। ग्रामीणों का आरोप है कि यहां की सडक़ों का सुधार कार्य १०-१२ वर्ष से अधिक समय बीत गए हैं। वहीं पंचायत की शासकीय भूमि पर शुक्रवार को आयोजित होने वाला साप्ताकि बाजार स्थानीय कब्जाधारियों के हाथों सुकुड़ गई है, जिसमें व्यापारी अब दुकान लगाने से भी कतराते हैं। पंचायत की बैठकी के साथ स्थानीय रसूख रखने वाले आधा दर्जन लोगों द्वारा जबरदस्ती अवैध वसूली भी की जाती है। जिसके कारण नाममात्र में व्यापारी यहां पहुंच रहे हैं। शासकीय योजनाओं को लेकर यहां पंचायत द्वारा किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जाती। अधिकारी भी जांच पड़ताल में पंचायत नहीं आते हैं।
वर्सन:
पीएचई विभाग से नलजल योजना के सुधार के लिए निर्देशित करती है, साथ ही एसडीएम पुष्पराजगढ़ को पंचायत भेजकर व्यवस्थाओं को बनाने कहती हूं।
सोनिया मीणा, कलेक्टर अनूपपुर।
-----------------------------------------------
Unseen: Naljal scheme is closed for four years, villagers' thirst is q
अनदेखी: चार साल से नलजल योजना है बंद, हरिजनटोला में बावड़ी से ग्रामीणों की बुझ रही प्यास

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

बड़ा हादसाः 21 बारातियों से भरे तेज रफ्तार वाहन ने पेड़ में मारी टक्कर, 7 की मौत, 10 जख्मीअब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : 21 मई को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानभीषण सडक़ हादसा: पूर्व सांसद के भतीजे समेत 4 की मौत, गैसकटर से काटकर निकाले गए शवWeather Update: दिल्ली सहित इन राज्यों में बदला मौसम ​का मिजाज, आंधी-बारिश की संभावनाMP में ओबीसी आरक्षण: जिला पंचायत 30, जनपद 20 और सरपंचों को 26 फीसदी आरक्षणपटियाला जेल में बंद Navjot Singh Sidhu ने पहली रात नहीं खाया जेल का खाना, नहीं मिला कोई VIP ट्रीटमेंटRajiv Gandhi Death Anniversary: भावुक हुए राहुल गांधी, पिता को याद कर कही दिल की बातभारतीय की शान Veer Mahaan का एक फिर खौला खून, कहा- पूरे WWE लॉकर रूम का बुरा हाल करूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.