ग्रामीणों ने रखी पानी की समस्या, कलेक्टर ने अधिकारियों से स्थायी निदान के दिए निर्देश

ग्रामीणों ने रखी पानी की समस्या, कलेक्टर ने अधिकारियों से स्थायी निदान के दिए निर्देश

Rajan Kumar | Publish: May, 14 2019 01:06:22 PM (IST) Anuppur, Anuppur, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर ने मैदानी अमला से नियमित क्षेत्र भ्रमण करने दिए निर्देश

अनूपपुर। जिले से ५ बड़ी नदियों के उद्गमित होने के बावजूद प्रत्येक गर्मी के मौसम में पानी की बनती समस्या पर सोमवार १३ मई को कलेक्टर ने समीक्षा बैठक के दौरान सम्बंधित विभाग पर नाराजगी जाहिर करते हुए इसके स्थायी निदान के निर्देश दिए। साथ ही कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने ग्रामीण स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अमले को नियमित रूप से संभावित जल प्रभावित क्षेत्रों पर नजर रखने एवं पेयजल व्यवस्था बनाने के लिए निर्देशित किया है। कलेक्टर का कहना था कि जलसंकट प्रभावित क्षेत्रों में प्रत्येक गर्मी के दौरान जल परिवहन कर जलापूर्ति कराना स्थायी हल नहीं है। इसके बजाय स्थायी निदान कर दिया जाए तो इस समस्या से लोगों के साथ साथ विभाग को भी परेशानियों से बचाया जा सकता है। जिले के सुदूर क्षेत्रीय कई गांव अब भी ऐसे हैं जहां पानी की समस्या विकट है। उन गांवों में जलसरंक्षण सहित उनके उपयोग की कोई योजनाएं नहीं है। ऐसे क्षेत्रों में जलापूर्ति के लिए अबतक स्थायी व्यवस्था भी नहीं बन सकी है। कलेक्टर ने जल निगम द्वारा योजनांतर्गत चिह्नांकित ग्रामों में जल की आपूर्ति करने की परियोजना की समीक्षा के दौरान कुछ ऐसे ग्रामों जहां जल की समस्या लम्बे समय से बनी हुई है उन्हें भी कार्रवाई कर परियोजना में शामिल करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने जल निगम के अधिकारियों को राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ संयुक्त भ्रमण कर चिह्नांकित क्षेत्रों के सम्बंध में आवश्यक निरीक्षण उपरांत कार्रवाई करने के लिए कहा है। इस दौरान कलेक्टर ने 17 मई की शाम जैतहरी विकासखंड के ग्राम लपटा में कलेक्ट्रैट की समस्त शाखाओं के जिला अधिकारी एवं विकासखंड स्तरीय अधिकारियों को आवश्यक दस्तावेजों समेत उपस्थित रहने के निर्देश दिए, जहां सम्बंधित विभागों द्वारा अब तक की गई गतिविधियों एवं योजनाओं की समीक्षा की जाएगी। विदित हो कि हाल के दिनों में कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों के साथ करनपठार क्षेत्र का भ्रमण किया, जहां ग्रामीणों ने जलसंकट समस्या सहित अन्य बुनियादी जरूरतों से जूझते ग्रामीणों की ओर ध्यान दिलाया था। इस मौके पर चौपाल में शामिल हुए विभागीय अधिकारियों को देख ग्रामीणों ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए उनके पहली बार देखे जाने की बात कलेक्टर से कही थी। बैठक मेें कलेक्टर ने अन्य विभाग के मैदानी अमलों को ऐसी शिकायतों अथवा समस्याओं के मिलने पर उसे तत्काल सम्बंधित विभाग को अग्रेषित करने के निर्देश दिए हैं।
बॉक्स: जलाशयों का जल्द से निर्माण हो पूर्ण
कलेक्टर ने ताराडांड जलाशय भूमि अधिग्रहण सम्बंधी मुआवजा वितरण की समीक्षा करते हुए लम्बित प्रभावितों को मुआवजा वितरण के सम्बंध में कार्रवाई के निर्देश सम्बंधित अधिकारियों को दिए। जबकि धनपुरी जलाशय के अधूरे कार्य को पूर्ण करने, पड़ौर नहर, पुष्कर बांध एवं अमरकंटक में स्थित अन्य दो जलाशयों की मरम्मत के कार्य के लिए दिए गए निर्देश के सम्बंध में अब तक की गई गतिविधियों की समीक्षा की। साथ ही अपेक्षित कार्रवाई चिन्हित कर एस्टिमेट एक सप्ताह के अंदर तैयार करने के निर्देश जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को दिए हैं

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned