आखिर क्यों.. व्यापारियों ने बंद कर दी नगर की दुकानें, जवानों के खिलाफ कार्रवाई पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन

आखिर क्यों.. व्यापारियों ने बंद कर दी नगर की दुकानें, जवानों के खिलाफ कार्रवाई पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन

shivmangal singh | Publish: Apr, 17 2018 08:41:55 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2018 08:41:56 PM (IST) Anuppur, Madhya Pradesh, India

आखिर क्यों.. व्यापारियों ने बंद कर दी नगर की दुकानें, जवानों के खिलाफ कार्रवाई पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन

पुलिस जवानों द्वारा व्यापारी से मारपीट के विरोध में चचाई की दुकानें रही बंद, सडक़ पर उतरे व्यापारी
अनूपपुर। चचाई थाना क्षेत्र के मुख्य बाजार में १३ अप्रैल की रात ८.३० बजे दो पुलिस जवानों एक व्यापारी की दुकान में घुसकर मारपीट किए जाने तथा गल्ले से पैसे निकालने के मामले तथा अबतक कोई कार्रवाई नहीं होने से नाराज लगभग दो सैकड़ा व्यापारियों ने सोमवार १६ अप्रैल को चचाई की समस्त दुकानें बंद रखी। सभी दुकानों ने अपना विरोध दर्ज कराते हुए चचाई थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंपने के साथ साथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय भी पहुंचकर अपना ज्ञापन सौंपा। प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम प्रभारी पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी को सौंपे गए ज्ञापन में व्यापारियों ने दोनों पुलिस जवानों प्रधान आरक्षक प्रभात मिश्रा और आरक्षक क्लायमेंट जॉन पर आए दिन व्यापारियों से जबरन वसूली करने का भी आरोप लगाया है। वहीं १३ अप्रैल की रात घटित घटना में किराना व्यवसायी केशव सोनी के दुकान के अंदर दोनों जवानों द्वारा घुसकर उसके नौकरो को बाहर कर दुकान का शटर गिराकर व्यापारी के गल्ले से ३०-३५ हजार रूपए निकालने की भी बात कही है। व्यापारियों का कहना है कि इसकी शिकायत समस्त व्यापारियों द्वारा चचाई थाने में दर्ज कराई गई थी, बावजूद पुलिस ने दोनों के खिलाफ अबतक कोई कार्रवाई नहीं की है। जबकि दोनों पुलिस जवान चचाई में सपरिवार निवास करते हैं। दुकानों से समान लेने के उपरांत पैसे की बजाय हम एसपी स्क्वार्यड के आदमी की चेतावनी दी जाती है। वहीं फिलहाल दोनों जवान चचाई थाना क्षेत्र में पदस्थ भी नहीं है। बावजूद शुक्रवार की रात दुकान में प्रवेश कर सट्टा खिलाने की बात कहते हुए दुकान की शटर गिराकर व्यापारी से मारपीट और गल्ले से पैसे निकाल लेेते हैं।
बताया जाता है कि व्यापारी संगठन ने ज्ञापन के माध्यम से पुलिस अधीक्षक को दो शब्दों में तल्ख चेतावनी भी दी है जिसमें उल्लेखित किया कि पुलिस ने १३ अप्रैल की रात की घटना में व्यापारी द्वारा चचाई में दी गई शिकायत के बाद भी पुलिस ने अपने जवानों के बजाय व्यापारी केशव सोनी के उपर फर्जी सट्टे का मामला दर्ज किया है। जबकि जवानों ने गल्ले में रखे पैसे और व्यापारिक हिसाब की पर्ची लेकर दुकान से भाग निकले थे। व्यापारी केशव सोनी पर लगाए गए फर्जी मामले समाप्त कर सम्बंधि जवानों के खिलाफ कार्रवाई की जाए, अन्यथा व्यापारी संघ मामले में मुख्यमंत्री के निवास भोपाल के समक्ष धरना प्रदर्शन करने के लिए विवश होगी, जिसकी समस्त जिम्मेदारी पुलिस विभाग की होगी।
बॉक्स: सरपंच ने थाना प्रभारी के स्थानांतरण की मांग
एक ओर जहां स्थानीय व्यापारी जवानों के खिलाफ कार्रवाई और दुकान के खिलाफ दर्ज मामलों पर नाराजगी जताते हुए कार्रवाई की मांग कर रहे हैं, वहीं चचाई की सरपंच पूनम सिंह ने चचाई थाना प्रभारी के स्थानांतरण की मांग लेकर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा। जिसमें स्थानीय क्षेत्र में रेत उत्खन्न सहित सट्टा और अन्य अवैधानिक कार्यो के प्रति कार्रवाई में अनदेखी बताई।
बॉक्स: २०० दुकानों के नहीं खुले शटर, आमजन परेशान
चचाई समस्त क्षेत्र में व्यापारी संघ के आह्वन पर किए गए एकदिनी बाजार बंद में सोमवार को चचाई अंतर्गत लगभग २०० मुख्य दुकानें सहित अन्य छोटे-छोटे व्यापारिक दुकानें भी बंद रही। जिसके कारण चचाई ताप विद्युत गृह सहित आसपास के वरिष्ठ अधिकारी आवास व ग्रामीण इलाकों के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। जरूरी के सामनों के लिए लोगों को १० किलोमीटर दूर अनूपपुर मुख्य बाजार की ओर रूख करना पड़ा। जिसके कारण चचाई क्षेत्र की जनता आम जरूरी सामानों के लिए दिनभर हालाकान रही।
वर्सन:
मामले की जांच जारी है, जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।
हितेश चौधरी, प्रभारी पुलिस अधीक्षक अनूपपुर।
------------------------------------------------------------

Ad Block is Banned