आगे वाले ट्रक को टक्कर मार पलटा गैस से भरा ट्रक, दूसरा ट्रक खाई में गिरने से बचा

्प्राणपुर घाटी पर फिर हादसा: आपस में टकराए गैस से भरे दो ट्रक,

- दोनों ट्रकों में भरे हुए थे गैस से भरे सिलेंडर, पुलिस की मुस्तैदी से टली बड़ी दुर्घटना।

By: Arvind jain

Published: 03 Jan 2020, 10:09 AM IST

अशोकनगर. गैस सिलेण्डरों से भरे दो ट्रक आपस में पीछे से टकरा गए, इससे एक ट्रक पलट गया और सिलेंडर फैल गए। वहीं दूसरा ट्रक रैलिंग से टकराकर 50 फिट गहरी खाई में गिरने से बच गया। इससे नेशनल हाईवे जाम हो गया और पुलिस की मुस्तैदी से बड़ी दुर्घटना टल गई, पुलिस ने करीब दो घंटे तक मशक्कत कर हाईवे पर वाहनों को साइड से धीमी गति से निकलवाया।

घटना गुरूवार सुबह 9 बजे चंदेरी के प्राणपुर घाटी पर खतरनाक मोड़ की है। डोंगर प्लांट से भरे हुए गैस सिलेण्डर भरकर दोनों ट्रक जा रहे थे, मोड़ पर पीछे वाले ट्रक ने आगे चल रहे ट्रक को टक्कर मार दी। इससे आगे वाला ट्रक रैलिंग से टकराकर रुक गया। रैलिंग टूटी हुई है, यदि ट्रक नहीं रुकता तो 50 फिट नीचे गहरी खाई में गिरता। वहीं टक्कर मारने वाला ट्रक सड़क पर ही पलट गया।

ट्रक चालक अबरार ने बताया कि अचानक ब्रेक फैल होने से ट्र्रक अनियंत्रित होकर आगे वाले ट्रक से टकरा गया था। दोनों ट्रक उप्र के बांसी व रामटोरिया जा रहे थे।

थाना प्रभारी ने पुलिस तैनात कर रोके वाहन-
घाटी पर दो खतरनाक मोड़ हैं, लेकिन रास्ते पर ट्रक पलटने और गैस से भरे सिलेण्डर सड़क पर फैलने से थाना प्रभारी संजीव तिवारी ने सड़क पर दोनों तरफ पुलिस जवान तैनात किए और आने वाले बड़े वाहनों को रुकवाया व छोटे वाहनों को धीमी गति से साइड से निकलवाया। साथ ही क्रेन मंगाकर पुलिस ने ट्रक को सड़क से हटवाया। दोनों ट्रकों में 684 सिलेंडर भरे हुए थे, जिन्हें बाद में अन्य ट्रकों में भरवाया गया।

खतरनाक मोड, फिर नहीं संकेतक-
खास बात यह है कि इस घाटी पर दो खतरनाक मोड हैं और एक तरफ गहरी खाई भी है। इसके बाद भी सड़क पर कोई संकेतक नहीं है, करीब दो महीने पहले चंदेरी थाना प्रभारी ने हादसों को रोकने के लिए क्षतिग्रस्त रैलिंग पर रेडियम पट्टियां लगवाई थीं।

Arvind jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned