प्रशासन ने नहीं सुनी किसी की, एक साथ हटाया अतिक्रमण

प्रशासन ने नहीं सुनी किसी की, एक साथ हटाया अतिक्रमण
Ashoknagar, Nagarpalika-administration, action of encroachment,

praveen praveen | Publish: May, 20 2017 11:33:00 PM (IST) Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

अशोकनगर. नगर में शनिवार को अतिक्रमण विरोधी मुहिम को लोगों की सराहना मिली। प्रशासन की जेसीबी का पंजा हर अतिक्रमण पर चला। इस दौरान लोगों की भारी भीड़ जुटी रही।

अशोकनगर. नगर में शनिवार को अतिक्रमण विरोधी मुहिम को लोगों की सराहना मिली। प्रशासन की जेसीबी का पंजा हर अतिक्रमण पर चला। इस दौरान लोगों की भारी भीड़ जुटी रही। एक समान कार्रवाई होती देख लोग उत्साहित दिखे और अस्त-व्यस्त नजर आने वाला शहर व्यवस्थित तथा सड़कें चौड़ी नजर आने लगीं।
एसडीएम अखिलेश जैन के नेतृत्व में पुलिस व नगरपालिका का अमला एक जेसीबी, एक दमकल और तीन डंफर के साथ सुबह करीब 11.30 बजे गांधी पार्क पर पहुंचा। रेलवे स्टेशन रोड से कार्रवाई शुरू की गई और दुकानों पर बाहर तक निकल टीन शेड, छज्जे, छज्जों पर लगी रैलिंग, सीडिय़ां, स्लेब सहित होटलों की भट्टियां सब कुछ तोड़ दिया। गांधी पार्क पर एफओबी के साइड में लगे होर्डिंग्स भी जेसीबी से हटवा दिए गए। एसडीएम माइक पर निर्देश दे रहे थे और कर्मचारी अतिक्रमण हटाते हुए उनके पीछे-पीछे बढ़ रहे थे। धूल के गुबार, तेज धूप व गर्मी, प्यास सब कुछ बर्दाश्त करते हुए लोगों का रैला भी कार्रवाई के साथ-साथ ही चल रहा था।
कार्रवाई के दौरान एसडीएम ने जुर्माने के तौर पर कुछ दुकानदारों और दो होटल संचालकों पर दो-दो हजार का जुर्माना करने के निर्देश भी दिए।

 स्टेशन रोड पर ही एक मकान पर एक मोबाइल कंपनी द्वारा कंपनी के प्रचार के लिए टाइल्स लगाने बांस की सेंटिंग बांधी रखी थी, उस पर दो हजार का जुर्माना करने के निर्देश दिए गए। जिन दुकानदारों ने होर्डिंग्स, रैक, सामान रखने के लिए बॉक्स आदि छज्जों पर बना लिए थे, उन्हें भी तुड़वा दिया गया। नालियों पर किए गए अतिक्रमण को भी प्रमुखता से हटाया गया, ताकि उनकी सफाई हो सके। कार्रवाई का दौर शाम को 4.00 बजे तक जारी रही। इसमें नपा सीएमओ पीकेसिंह व सूबेदार अजय प्रतापसिंह भी उपस्थित रहे।

एक दिन पहले करवा दी गई थी मुनादी
एसडीएम ने एक दिन पहले मुनादी कर अतिक्रमण हटाने की अपील लोगों से की थी। वे जहां-जहां से मुनादी करते हुए निकल, वहां-वहां शनिवार को कार्रवाई हुई। मुनादी के बाद शनिवार सुबह से ही इंदिरा पार्क, गांधी पार्क एक-दम खाली नजर आए। यहां लगने वाले ठेले नदारद रहे। कई दुकानदारों ने भी अपने सामान को अंदर करके रखा था, लेकिन टीन शेड नहीं खोले थे। वहीं ऐसे भी कई दुकानदार रहे, जिन पर समझाइश को कोईअसर नहीं हुआ और वे कार्रवाई करने पहुंची टीम को देखने के बाद जल्दी-जल्दी अपना सामान हटाते और टीन शेड खोलते नजर आए। अशोकनगर के इतिहास में अतिक्रमण के विरुद्ध यह पहली सबसे बड़ी कार्रवाई रही।

सुभाष गंज में भी नहीं रुकी जेसीबी
शुक्रवार को हुई कार्रवाई का लोगों ने यह कहकर विरोध किया था कि प्रशासन  समान रूप से कार्रवाई नहीं करता। सुभाषगंज, गांधी पार्क, स्टेशन रोड पर कार्रवाई पहुंचते ही रुक जाती है। एसडीएम ने लोगों को समान कार्रवाईका आश्वासन दिया था और शनिवार को उसे पूरा भी किया गया।सुभाष गंज में भी लोगों के अतिक्रमण हटाए गए। यहां बीच सड़क पर रखे टायर व अन्य सामान रखा था। इसमें कुछ टायर जब्त कर बाकी सामान सड़क से हटाने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही सड़कों पर पार्क किए गए चार पहिया वाहनों को भी हटवाया गया। एसडीएम ने कहा कि कार ली है तो उसके लिए पार्किंग की जगह भी खरीदो, सड़क वाहन पार्क करने के लिए नहीं है।

इधर विधायक प्रतिनिधि ने किया विरोध, उधर उपाध्यक्ष ने की कार्रवाई की सराहना
रेलवे स्टेशन रोड पर भाजपा विधायक प्रतिनिधि मनोज कलाकार की दुकान भी है। यहां कार्रवाई के दौरान उनके द्वारा समय मांगने पर एसडीएम ने आधे घंटे की मोहलत दी और गांधी पार्क, इंदिरा पार्क, मेन मार्केट, सुभाष गंज में कार्रवाई कर, लगभग दो घंटे के बाद जब टीम वापस लौटी, तब भी उनकी दुकान जस की तस थी। इस पर एसडीएम ने जेसीबी चलाने के निर्देश दे दिए। विधायक प्रतिनिधि को यह नागवार गुजरा और उन्होंने हंगामा शुरूकर दिया। उन्होंने पुलिस व नपा कर्मचारियों से बहस की और पुलिस व प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी शुरू कर दी। वे सीएमओ पीकेसिंह से भी उलझ गए। इसके बाद पुलिस फोर्स बुलाया गया और उन्हें दुकान से बाहर निकालकर दुकान पर जेसीबी चला दी गई। इसके बाद भी विधायक प्रतिनिधि का हंगामा जारी रहा, वे अधिकारियों के पीछे-पीछे रेस्ट हाउस तक पहुंच गए और वहां भी नारेबाजी करने लगे। इससे रेस्ट हाउस के गेट लगवाने पड़े। बहुत समझाने के बाद भी जब वे नहीं माने तो पुलिसबल ने उन्हें खदेड़ा। हंगामे की आशंका के चलते गांधी पार्क चौराहे पर पुलिस बल के साथ वज्र वाहन की भी तैनाती की गई। एसडीएम ने कहा कि सभी पर जब कार्रवाई हुई है, इसलिए किसी एक को नहीं छोड़ा जा सकता। उनके अलावा अन्य किसी ने भी कार्रवाई का विरोध नहीं किया। क्योंकि सभी इस कार्रवाई को शहर हित में ही मान रहे थे।भाजपा की उपाध्यक्ष वर्षा बड़कुल ने कहा कि कार्रवाई के दौरान हमारे मकान के छज्जे व सीढिय़ां भी तोड़ी गई हैं, लेकिन यह कार्रवाई शहर हित में है। इसलिए हम प्रशासन की कार्रवाई से सहमत है। शहर को साफ-स्वच्छ व व्यवस्थित बनाए रखने के लिए सभी को सहयोग करना चाहिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned