नहीं पहुंचे अन्नदाता, संख्या बढ़ाने के लिए विभागों के कर्मचारियों को बुलाकर बिठाया

नहीं पहुंचे अन्नदाता, संख्या बढ़ाने के लिए विभागों के कर्मचारियों को बुलाकर बिठाया

Ram kailash napit | Publish: Apr, 17 2018 11:53:30 AM (IST) Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

अशोकनगर. 10 लाख रुपए खर्च के बजट वाले किसान सम्मेलन में किसानों को लाने कृषि विभाग ने 70 बसें लगाईं

अशोकनगर. 10 लाख रुपए खर्च के बजट वाले किसान सम्मेलन में किसानों को लाने कृषि विभाग ने 70 बसें लगाईं, अधिकारी-कर्मचारियों को टारगेट दिया, 5 हजार कुर्सियां भी मंगाईं, लेकिन सम्मेलन में किसान करीब 500 ही पहुंचे। इससे अधिकारी-कर्मचारियों को बुलाकर कुर्सियों को भरा गया और खाली न दिखे इसलिए कार्यक्रम शुरू होते ही शेष कुर्सियों को हटा दिया गया। किसानों की कम संख्या से यह सम्मेलन सिर्फ नाम का ही किसान सम्मेलन रहा।

पिछले वर्ष समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने वाले किसानों को 200 रुपए प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि बांटने के लिए कृषक समृद्धि योजना के तहत सोमवार को जिले में किसान सम्मेलन का आयोजन किया। लेकिन इसमें किसान नहीं पहुंचे, वहीं कार्यक्रम में आने के लिए किसान न मिलने से ज्यादातर बसें तो कार्यक्रम में लौटकर ही नहीं आईं, जो बसें आईं उनमें भी 12 से 13 लोग ही बैठे नजर आए। जहां पर मुख्यमंत्री का लाइव संबोधन एलइडी पर दिखाया गया और किसानों को प्रोत्साहन राशि के प्रमाण पत्र बांटे गए। साथ ही विधायक गोपीलाल जाटव, कृषि उपसंचालक एसएस मरावी, कनिष्ठ अधिकारी एमएस राठौर ने शासन द्वारा चलाई जा रही योजनाओं और किसानों को मिले लाभ की जानकारी दी। कार्यक्रम में कलेक्टर बीएस जामोद, जिला सीईओ सुरेशकुमार, भाजपा जिलाध्यक्ष जयकुमार सिंघई सहित कई अधिकारी और पदाधिकारी उपस्थित थे। लेकिन खास बात यह है कि जिले में कई महिला जनप्रतिनिधि होने के बावजूद भी, इस कार्यक्रम में कोई महिला जनप्रतिनिधि नहीं पहुंची।

सूची से भरा रजिस्टर, कहा दो हजार किसान आए
कार्यक्रम में किसानों की कम संख्या होने से कार्यक्रम में आए किसानों की संख्या बढ़ाने योजना की सूची में से रजिस्टर में नाम दर्ज किए। इसमें न तो किसान का मोबाइल नंबर था और न हीं हस्ताक्षर। इससे कार्यक्रम खत्म होने के एक घंटे बाद तक रजिस्टर में एंट्री का नाम चलता रहा। हालांकि अब विभाग द्वारा सम्मेलन में दो हजार किसानों का शामिल होना बताया जा रहा है।

4670 किसानों को मिलेंगे 12.90 करोड़ रुपए
मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत जिले के 4670 किसानों के खातों में 12 करोड़ 90 लाख चार हजार 100 रुपए डाले जाएंगे। इसके लिए किसानों को प्रमाण पत्र दिए गए। इसमें सबसे ज्यादा राशि भाजपा नेता व किसान बोपाराय को मिली। वहीं सर्वोत्तम किसान के लिए उद्यानिकी व पशुपालन विभाग ने संतोषसिंह, गंधर्वसिंह यादव को 25-25 हजार रुपए के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। पृथ्वीराज पुत्र पुष्पेंद्रसिंह, रामबाबू पुत्र जहारसिंह व रणवीर पुत्र राजधरसिंह को 10-10 हजार रुपए की राशि से पुरस्कृत किया गया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned