Bridge course: टेस्ट में टीचरों को लाने थे कम से कम 70 प्रतिशत अंक, 17 लोगों को मिले शून्य अंक

Bridge course: टेस्ट में टीचरों को लाने थे कम से कम 70 प्रतिशत अंक, 17 लोगों को मिले शून्य अंक

Arvind jain | Updated: 14 Jul 2019, 11:46:23 AM (IST) Ashoknagar, Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

खुद ही पास नहीं हो पाए मास्साब, आरएमएसए ने जारी किया कार्रवाई का आदेश, 70 प्रतिशत अंक लाना थे जरूरी

अशोकनगर। बच्चों student को बेसिक ज्ञान देने के लिए प्रशिक्षण Bridge Course लेने वाले शिक्षक टेस्ट में खुद ही फैल हो गए। इस टेस्ट में उन्हें कम से कम 70 प्रतिशत अंक लाने थे, लेकिन 17 शिक्षक teachers news ऐसे हैं, जो शून्य से भी आगे नहीं बढ़ सके। अब आरएमएसके ने इन शिक्षकों पर कार्रवाई action के निर्देश दिए हैं।


उल्लेखनीय है कि कक्षा 8वीं से 9वीं में प्रवेश करने वाले बच्चों के लिए यह कोर्स सरकार ने शुरू किया है। इसमें ऐसे बच्चे शामिल होते हैं जो 9वीं कक्षा के अनुसार बेसिक ज्ञान नहीं रखते। उस बच्चों को कक्षा में प्रवेश से पहले ब्रिज कोर्स के माध्यम से हिंदी, अंग्रेजी व गणित विषय का बेसिक ज्ञान सिखाया जाता है।

 

ऑनलाइन टेस्ट लिया गया था
सरकार ने इसके लिए शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया था और प्रशिक्षण के बाद उनका ऑनलाइन टेस्ट लिया गया था। जिसमें शिक्षकों को 70 प्रतिशत नंबर लाने थे। जो शिक्षक इससे कम नंबर लाए उन पर कार्रवाई की जाएगी। जिसमें उनकी वेतन वृद्धि भी रोकी जा सकती है।


जिले के शिक्षक लाए जीरों नंबर
इस ऑन लाइन टेस्ट में जिले के शिक्षक जीरो नंबर लाए हैं। आदेश के साथ शिक्षकों की सूची भी दी गई है। जिसमें 17 शिक्षक शामिल हैं और सभी के जीरो नंबर हैं। शिक्षकों के प्रशिक्षण के दौरान एक टेस्ट पहले और एक टेस्ट बाद में लिया गया था। अब इन शिक्षकों पर कार्रवाई की गाज गिर सकती है।

 

मुझे इस बारे में जानकारी नहीं है। अभी पत्र हमारे पास नहीं आया है। जो भी आदेश आएंगे उनके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
आदित्य नारायण मिश्रा, डीईओ अशोकनगर

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned