Sawan : पेड़ों पर डाले झूले व महिलाओं ने सजाई मेंहदी, सावन गीतों पर कलेक्टर-विधायक भी थिरके

सावन मेला: गायब होती संस्कृति को फिर से जीवंत बनाने शहर में पहली बार आयोजित हुआ सावन मेला।

- रिमझिम बारिश में भीगते हुए सावन गीतों पर महिलाओं ने किया डांस, जोधपुर के कलाकारों ने किया फूल होली का आयोजन।

By: Arvind jain

Published: 14 Aug 2019, 02:30 PM IST

अशोकनगर. गायब होती संस्कृति को जीवंत बनाने शहर में पहली बार सावन मेले का आयोजन किया गया। इसके लिए पेड़ों पर झूले डाले और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने महिलाओं को मेंहदी रचाई। साथ ही डीजे पर बजे सावन गीतों पर रिमझिम बारिश के बीच महिलाओं-बच्चों ने डांस किया। इस दौरान कलेक्टर डॉ.मंजू शर्मा और विधायक जजपालसिंह भी सावन गीतों पर लोगों के साथ खूब थिरके।


मौका था शहर के पॉलीटेक्निक कॉलेज के पास महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित सावन मेले का। जिसमें स्वसहायता समूहों की महिलाओं ने अपने द्वारा बनाए गए विभिन्न प्रोडक्ट की स्टॉल सजाईं, साथ ही खान-पान की स्टॉलें भी सजीं। जहां छोटे बच्चों को राधाकृष्ण के रूप में सजाया। वहीं जोधपुर से आए कलाकारों ने मयूर नृत्य प्रस्तुत किया और सावन माह में वृंदावन की फूल होली का आयोजन किया। साथ ही सावन गीत भी बजाए गए, इससे पूरा नजारा ब्रज की तरह नजर आया। महिलाएं-बच्चे झूलों पर झूले और बच्चों के साथ पहुंचे लोगों ने मेले का लुत्फ उठाया। इस दौरान कलेक्टर ने भी अपने हाथों में मेंहदी लगवाई।

 


विभाग ने लगाई योजनाओं की प्रदर्शनी-
मेले में महिला एवं बाल विकास विभाग ने शासन की विभिन्न योजनाओं की प्रदर्शनी लगाई, साथ ही लोगों को इन योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम में विभाग के जिला अधिकारी जयंत वर्मा भी मौजूद रहे। कलेक्टर और विधायक ने कार्यक्रम की खूब तारीफ की और आगामी समय में बड़े स्तर पर आयोजित करने की बात कही।

Show More
Arvind jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned