पहले मकान को कच्चा मानकर जारी की किस्त, निर्माण के लिए मकान तोड़ा तो बताया अपात्र

पहले मकान को कच्चा मानकर जारी की किस्त, निर्माण के लिए मकान तोड़ा तो बताया अपात्र

Arvind jain | Publish: Oct, 25 2018 03:42:53 PM (IST) Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

पीएम आवास योजना में गड़बड़ी....

अशोकनगर। शहरी क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है। नपा ने पहले जिस मकान को कच्चा मानकर योजना के तहत आवास स्वीकृत किया। किस्त आते ही जब हितग्राही ने अपना मकान तोड़ लिया तो अब उसे अपात्र बता दिया गया है।

वहीं मौके पर पहुंचकर सीएमओ ने हितग्राही से किस्त की राशि वापस वापस लौटाने के लिए कहा। नतीजतन अपना मकान गिराने के बाद अब हितग्राही दूसरे के आंगन में तिरपाल लगाकर रहने को मजबूर है और नपा की गलती का खामियाजा उसे खुले में रहकर भुगतना पड़ रहा है।


मामला शहर के गौशाला रोड का है। दूसरे की दुकान पर टेलरिंग का काम करने वाले महेश सिलावट ने दो साल पहले प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेने आवेदन किया था। नपा ने उसके घर का सर्वे करके उसे पात्र बताया और 10 दिन पहले ही उसे योजना की पहली किस्त जारी कर दी और निर्माण करने के लिए कहा।

 

महेश सिलावट ने अपनी ईंट-मिट्टी का मकान गिरा लिया, तो बुधवार को सीएमओ बीडी कतरोलिया जांच करने पहुंचे और उसे अपात्र बताया। साथ ही योजना की किस्त को वापस लौटाने के निर्देश दिए। महेश सिलावट विकलांग है और उसकी पत्नी भी विकलांग है।

निर्माण के लिए मकान गिराने के बाद अब उनका परिवार दूसरे के आंगन में टीन और तिरपाल लगाकर रहने को मजबूर है। इसके अलावा शहर में तीन अन्य अपात्र लोगों के योजना के तहत आवास निर्माण होते पाए गए।

 

खामियाजा भुगत रहे हितग्राही....
नपा की टीम ने पहले तो अपात्र लोगों को पात्र बताकर पक्के आवास स्वीकृत कर दिए और जांच के दौरान हकीकत जानना तक मुनासिब नहीं समझा। लेकिन जब लोगों ने अपने पुराने मकानों को गिरा दिया तो सीएमओ ने जांच कर उन्हें अपात्र घोषित कर दिया है।

इससे अब बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि आखिर नपा ने पहले उन्हें किस आधार पर पात्र माना था, वहीं अधिकारियों ने भी कई बार निरीक्षण कर उन्हें पात्र माना। लेकिन अपात्र लोगों को आवास स्वीकृत कर दिए गए व पात्र लोग आवास के लिए आज भी भटक रहे हैं।


प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत तीन-चार लोग अपात्र पाए गए, जिनके यहां आवास का निर्माण चल रहा था। जांच रिपोर्ट तैयार की जा रही है और उनसे योजना की राशि वापस ली जाएगी। यह भी जांच की जा रही है इन अपात्र परिवारों को योजना में पात्र कैसे बता दिया गया।
बीडी कतरोलिया, सीएमओ नपा अशोकनगर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned