उर्जा मंत्री की चौपाल में जनरेटर से किया उजाला

गामीणों ने कहा यहां बिजली नहीं सिर्फ बिल आते हैं

By: Subodh Tripathi

Published: 08 Oct 2021, 06:17 PM IST

अशोकनगर. उर्जा मंत्री जैसे ही ग्रामीणों की समस्याएं सुनने चौपाल पर पहुंचे, वैसे ही खुद विद्युत विभाग की पोल खुल गई, क्योंकि वहां पर जनरेटर से उजाला करना पड़ा था, ऐसे में ग्रामीणों ने भी उन्हें बताया कि साहब यहां केवल बिजली के बिल आते हैं, बिजली नहीं।


दरअसल, उर्जा मंत्री प्रद्युम्नसिंह तोमर बुधवार रात को आदिवासी बस्ती में लगी चौपाल पर पहुंचे, वहां बिजली नहीं होने के कारण जनरेटर से उजाला करना पड़ा, वे रात को आदिवासी के घर ही रूके और खुले आसमान के नीचे ही खटिया पर सोए थे। यहां ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि साहब यहां बिजली नहीं सिर्फ बिल आते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि पीएम आवास स्वीकृत कराने पंचायत सचिव 20-20 हजार रुपए मांगता है, इस पर मंत्री ने नाराजगी जताई और एसडीएम को कार्रवाई के निर्देश भी दिए।


सुबह भी सुनी ग्रामीणों की समस्याएं
उर्जा मंत्री प्रद्युम्नसिंह तोमर वैसे तो बुधवार की देर रात करीब 11.30 बजे चंदेरी के गांव निदानपुर पहुंचे थे, वहां रात दो बजे तक चौपाल पर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी, यहां वे ग्रामीण भैयालाल आदिवासी के यहां रूके, उन्होंने दूसरे दिन सुबह गुरुवार को भी लोगों से मिलकर उनकी समस्याएं सुनी।

नर्मदा का जल- दस साल से तरस रहे एक लाख से अधिक विंध्य के अन्नदाता


खुद मंत्री ने लगाई झाड़ू


उर्जा मंत्री ने नपा के पार्क में गंदगी देखी तो बिफर पड़े, उन्होंने खुद झाडू़ उठाई और सफाई करने लगे, इस दौरान उन्होंने मीडिया के सवाल पर कहा यदि सभी लोग दिखावा भी करने लगें तो पूरा देश हमेशा स्वच्छ रहेगा।

Navratri 2021: यहां रोज ग्यारह सौ ग्यारह दीपों से जगमगाता है माता का दरबार

उर्जा मंत्री की चौपाल में जनरेटर से किया उजाला

गांव में बिजली थी, कार्यक्रम में कई जगहों पर बिजली की जरूरत थी, इसलिए जनरेटर चलाया गया था।
-उमा माहेश्वरी, कलेक्टर, अशोकनगर

Subodh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned