scriptIncorrect information on portal | पोर्टल पर गलत जानकारी: सेवानिवृति के दो साल बाद भी विभाग की बेवसाइड पर एसई हैं एसपी दुबे | Patrika News

पोर्टल पर गलत जानकारी: सेवानिवृति के दो साल बाद भी विभाग की बेवसाइड पर एसई हैं एसपी दुबे


पोर्टल पर दर्ज विभिन्न विभागों की बेवसाइड सालों से नहीं हुई अपडेट, लोगों को हो रही है परेशानी

अशोकनगर

Published: February 17, 2022 09:45:23 pm



ईसागढ़. आमजन तक विभिन्न विभागों की योजनाएं और जानकारी देने के लिए ऑन लाइन पोर्टल पर दर्ज विभिन्न विभागों की बेवसाइड सालों से अपडेट नहीं हुई हैं। साइड अपडेट नहीं होने के कारण जहां लोगों को विभागों के बारे में सही जानकारी नहीं मिल पा रही है। जिससे लोग गुमराह हो रहे हैं। जबकि कई विभागों के टोल फ्र ी नंबर पर नंबर चेक करने के संदेश सुनाई दे रहे हैं। जिससे लोग छोटी-छोटी शिकायतों के लिए संबंधित विभागों के चक्कर लगा रहे हैं।
हाईटेक हो रहे आमजन को विभिन्न विभागों की योजनाएं और विभाग से संबंधित जानकारी देने के उद्देश्य से विभिन्न विभाग अपनी जानकारियां ऑन लाइन पोर्टल पर दर्ज करता है। बताते हैं कि, ऑन लाइन पोर्टल पर संबंधित विभाग अपनी जानकारी तो दर्ज करता ही है, साथ ही अधिकारियों के नाम भी पद और संपर्क नंबर के साथ अंकित करता है। इसके अलावा लोगों की शिकायतें दर्ज करने कई विभागों ने पोर्टल पर टोल फ्र ी नंबर भी जारी किए हैं। लेकिन पोर्टल पर दर्ज कई विभागों की जानकारी जमीनी हकीकत से कोसों दूर है। सूत्रों की मानें तो कई विभागों ने अपनी बेवसाइड सालों से अपडेट नहीं की है। यही कारण है कि, विभागों की बेवसाइड लोगों को सही जानकारी उपलब्ध कराने के स्थान पर गुमराह कर रही हैं। जबकि टोल फ्री नंबर भी शिकायतें दर्ज करने के स्थान पर महज शोपीस बनकर रह गए हैं।
पोर्टल पर आज भी एसई बने हैं एसपी दुबे, टोल फ्र ी नंबर भी गलत-
बेवसाइड पर दर्ज जानकारी की पड़ताल की तो तमाम बेवसाइडों पर तमाम खामियां सामने आईं। मप्रमक्षेबिवि कंपनी की बेवसाइड पर गुना जिले के एसई एसपी दुबे को बताया जा रहा है। जबकि हकीकत में एसई एसपी दुबे लगभग दो साल पहले सेवानिवृत हो चुके हैं। इसी तरह पीएचई विभाग द्वारा हैंडपंपों से संबंधित समस्याएं दर्ज कराने के लिए टोल फ्री नंबर 9200067890 जारी किया है। इस टोल फ्र ी नंबर पर शिकायतें दर्ज कराना तो दूर गलत नंबर बताते हुए, नंबर को जांचने की समझाइस मिल रही है। यह दो मामले तो उदाहरण मात्र हैं। इसके अलावा अन्य कई विभागों की जानकारियों में भी तमाम खामियां सामने आई हैं।
वर्जन
मुझे सेवानिवृत हुए दो साल का समय हो गया है। लेकिन अभी भी मेरे पास उपभोक्ताओं के बिजली समस्या से संबंधित कई बार कॉल आ जाते हैं। आपसे ही मुझे जानकारी मिली कि, बेवसाइड पर एसई के पर पर अभी भी मेरा ही नाम चल रहा है। शायद यही कारण है कि, उपभोक्ता मुझे कॉल करते हैं। कंपनी के आईटी विभाग के पास सभी जानकारियां रहती हैं। उन्हें सही जानकारी प्रविष्ट करना चाहिए।
एसपी दुबे सेवानिवृत अधीक्षण यंत्री मप्रमक्षेविवि कंपनी लिमिटेड
बेबसाइड लगातार अपडेट की जाना चाहिए। मामला आपके द्वारा संज्ञान में लाया गया है। इस संबंध में बरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी भेजेगें और बेबसाइड दुरुस्त करवाने की कार्रवाई की जावेगी।
आर उमा महेश्वरी, कलेक्टर अशोकनगर
पोर्टल पर गलत जानकारी: सेवानिवृति के दो साल बाद भी विभाग की बेवसाइड पर एसई हैं एसपी दुबे
पोर्टल पर गलत जानकारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थाकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'Largest Vaccination Drive: भारत में 88% वयस्क आबादी को लग चुकी हैं COVID टीके की दोनों डोजIPL 2022: सिर्फ चौके और छक्के से बटलर ने ठोके करीब 600 रन, विराट कोहली को भी छोड़ा पीछे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.