Milk powder news : स्कूल ने पानी में बहाए बच्चों के पौष्टिक दूध पावडर के पैकेट

Milk powder news : स्कूल ने पानी में बहाए बच्चों के पौष्टिक दूध पावडर के पैकेट

Arvind jain | Publish: Aug, 08 2019 02:33:18 PM (IST) Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

स्कूल ने पानी में बहाए पौष्टिक दूध पावडर के पैकेट, पूछने पर शिक्षक बोले विभाग ने एक्सपायरी पैकेट दिए थे, इसलिए बहा दिए।

अशोकनगर. शासन भले ही बच्चों को पौष्टिक दूध milk powder उपलब्ध कराने के लिए हर माह लाखों रुपए खर्च कर रहा है, लेकिन हकीकत में यह दूध बच्चों को देने की वजाय कचरे में फैंक दिया जाता है। अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि स्कूल ने तेज बारिश का लाभ उठाकर दूध पैकेटों को वहीं पास में ही पानी में बहा दिया।

 

एक्सपायरी तारीख का होना बताया
मामला क्षेत्र के अमरोद गांव के प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय का है। बुधवार को तेज बारिश होने से चारों तरफ से पानी से घिरे इस स्कूल के चारों ओर दूध पावडर की पैकेट तैरती नजर आईं। इससे ग्रामीण इन पैकेटों को उठाकर देखते नजर आए। शिक्षक वसीर खान से जब इन दूध पैकेटों के फैंकने का कारण पूछा तो उन्होंने एक्सपायरी तारीख का होना बताया। जबकि ग्रामीणों का कहना है कि स्कूल में बच्चों को दूध का वितरण नहीं किया जाता है और शासन बच्चों की पोष्टिकता के लिए दूध वितरण पर हर माह लाखों रुपए खर्च कर रहा है।


शिक्षक ने कहा विभाग ने एक्सपायरी ही दिए थे पैकेट-
दूध पावडर की करीब डेढ़ दर्जन पैकेट वहां पर पानी में बहती मिलीं। जिन पर बनने की तारीख 21 जुलाई 2018 और एक्सपायरी तारीख 18 सितंबर 2018 दर्ज थीं। शिक्षक वसीर खान का कहना है कि विभाग से ही स्कूल को एक्सपायरी तारीख के पैकेट मिले थे, इसलिए इन पैकेट का दूध बच्चों को नहीं पिलाया गया और पैकेट को फैंक दिया गया। इससे शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों पर सवाल उठने लगे हैं कि आखिर वह कैसे एक्सपायरी तारीखों के दूध पैकेट स्कूलों में पहुंचा रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned