scriptnames of ineligible people also in PM housing so list not made public | 20 लोगों के बैंक खातों में एक-एक लाख रुपए डालने के बावजूद उनकी सूची सार्वजनिक नहीं की जा रही | Patrika News

20 लोगों के बैंक खातों में एक-एक लाख रुपए डालने के बावजूद उनकी सूची सार्वजनिक नहीं की जा रही

पीएम आवास की स्वीकृत सूची में अपात्रों के नाम इसलिए नहीं कर रहे सूची को सार्वजनिक

अशोकनगर

Published: May 29, 2022 04:09:35 pm

अशोकनगर (पिपरई) । Ashoknagar

दो वर्ष बीत जाने के बाद भी लोगों को पीएम आवास का लाभ नहीं मिल रहा है। पहली सूची में कई अपात्रों के नाम होने से लोगों मे रोष व्याप्त है और आवास के लिए बार-बार नप के चक्कर काट रहे हैं और परिषद के कर्मचारी सर्वे होने की बात कहकर लौटा देते हैं।

pm_awas.jpg

लोगों को प्रधान मंत्री आवास योजना की सूची कैसे बनी किस आधार पर बनी ये नहीं बताया जा रहा। कुछ दिनों पहले 20 लोगों के बैंक खातों में एक-एक लाख रुपए डाले गए है पर उनकी सूची सार्वजनिक नहीं की जा रही, क्योंकि इसमें कुछ अपात्र लोगों के नाम है।

हाल ही में राज्यमंत्री बृजेंद्र सिंह यादव ने सीईओ मुंगावली को सख्त निर्देश दिए थे कि प्रधान मंत्री आवास जिनके स्वीकृत हो गए उनकी सूची सार्वजनिक करो ये पंचायत के सचिव सूची सार्वजनिक इसलिए नहीं करते कि जिनके नाम आवास स्वीकृत है उससे पैसे ले सकें।

वहीं नगर परिषद ने भी सूची सार्वजनिक नहीं की है। सूची में नगर परिषद के कर्मचारी, नेता व धनवान लोगों के नाम है जो कि पात्रता में नहीं आते उनको शुरुआत में ही कुटीर स्वीकृत कर दी गई है।

लोग सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर नगर परिषद के विरुद्ध उठा रहे सवाल
लोग सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर नगर परिषद के विरुद्ध कई सवाल उठा रहे हैं। नगर परिषद प्रभारी रामेश्वर प्रसाद शर्मा का नाम लिया जा रहा है।

जिन्होंने जो वास्तविक गरीब हैं और कच्चे मकानों में रह रहे हैं, उनका नाम आने का वह इंतजार कर रहे हैं और प्रतिदिन नगर परिषद के चक्कर काट रहे हैं। भाजपा मंडल अध्यक्ष लाखन सिंह कटारिया ने आरोप लगाया है कि नगर परिषद का बाबू एक सिर्फ एक कद्दावर नेता के इशारे पर काम कर रहा है।

इससे यह विवाद बन रहा है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में मंत्रीजी को अवगत करा दिया है तथा सीएमओ विनोद उन्नीतान से बात हुई है, वह आकर स्वयं देखेंगे और सूची को सार्वजनिक करेंगे। उसमें से अपात्रों के नाम हटाए जाएंगे। इससे गरीबों का हक न मारा जाए। बाबू के बर्ताव की भी जांच करवाई जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल दोपहर 2 बजे लेगें शपथ, पटना में होगा शपथ ग्रहण समारोहनीतीश ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, कहा- हमें 164 विधायकों का समर्थनरवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे? पीएम मोदी के नाम पर आपको जीत मिली, ये कैसा अपमान?'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजानाMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपBihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चाBihar Politics: 2024 में नीतीश कुमार नहीं होंगे विपक्ष के पीएम उम्मीदवार, कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर खोला राजChandrapur: बाघ के आतंक से कांप उठा महाराष्ट्र का चंद्रपुर जिला, 23वां इंसान बना शिकार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.